रविवार, 10 जनवरी 2021

आइए आप भी जानिए कंस किला Kans fort मथुरा Mathura का इतिहास को विस्तार सहित


मथुरा (Mathura) भारत देश का ऐतिहासिक और धार्मिक दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण शहर है। इस शहर में बहुत सारे धार्मिक स्थल, महल और किले है। इनको देखने के लिए दुनिया के कोने लोग आते है। मथुरा शहर में "कंस किला" (Kans Fort) बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है। हिन्दू धर्म की मान्यताओं के आधार पर कंस हिन्दू भगवान श्री कृष्ण का मामा था। जिसने कई बार भगवान कृष्ण को मारने की कोशिश की थी। आइये आज हम बात करते है, कंस किले के बारे में विस्तार सहित। 




कंस किले का इतिहास (Kans Fort Mathura History)


कंस किले (Kans Fort) का इतिहास महाभारत (Mahabharata) काल से भी पहले का है। 16 वी शताब्दी में इस महल की मरम्मत अम्बर राजा मान सिंह के द्वारा करवाई गयी थी। राजा मान सिंह मुग़ल बादशाह अकबर के नौ रत्नों में से एक है। कहा जाता है कि बाद में राजा सवाई सिंह ने (सन् 1699-1743) इस किले में वेधशाला बनवाने के लिए निर्देश दिए थी। इस समय वेधशाला का कोई प्रमाण नहीं मिलता है। सरकार के द्वारा ध्यान ना देने के कारण किले की हालत बहुत ज्यादा ख़राब हो चुकी है।  






यह किला हिन्दू और मुसलिम वास्तुकला का बहुत ही बढ़िया नमूना है। इस किले को बलुआ पत्थर से बनाया गया है। यह किला यमुना नदी के किनारे पर स्थित है। इस किले में बहुत से बड़े बड़े स्तंभ है। नदी के किनारे पर स्थित होने के कारण किले का उपयोग बाढ़ को रोकने के लिए किया जाता है। किले की सुंदरता को देख कर सैलानी हैरान रह जाते है। 




किले के खुलने का समय/ शुल्क (Entry and fees)


सैलानियों (Tourist) के लिए किले को देखने का समय सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक है। यह हफ्ते के सारे दिन खुला रहता है। किले को देखने के लिए सैलानियों से किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जाता है। पर्यटक चाहे तो फोटो भी खींच सकते है। फोटो खींचने का भी कोई शुल्क नहीं लिया जाता है। बच्चों को यह किला दिखाने जरूर ले कर जाए ताकि उनको भी भारत के इतिहास का पता चल सके। मथुरा आने के लिए अक्तूबर से मार्च तक का समय बहुत बढ़िया है। 




कंस किले के निकट पर्यटक स्थल (Kans Fort Near Tourist Places)


कृष्ण जन्म भूमि मंदिर, द्वारकाधीश मंदिर, राधा कुंड, गोवर्धन पहाड़ी, मथुरा संग्रहालय, मथुरा के घाट, बरसाना, रंगजी मंदिर और कुसुम सरोवर बहुत ही सुन्दर पर्यटक स्थल है। मथुरा आने वाले सैलानी इन जगहों पर जाना नहीं भूलते है। यह सभी कंस किले के पास में स्थित है। सैलानी ट्रैन, सड़क और हवाई यात्रा करके मथुरा आ सकते है। इस किले का पता रतनकुंड, चौक बाजार, मथुरा (Mathura) उत्तर प्रदेश है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया कमेंट बॉक्स में कोई भी स्पैम लिंक न डालें।

अहमदाबाद गुजरात भारत के पर्यटन स्थल के बारे में विस्तार सहित जानकारी

अहमदाबाद (Ahmedabad) गुजरात का बहुत ही सुन्दर शहर है। यह पहले गुजरात की राजधानी हुआ करता था। इसको कर्णावती नाम से भी पहचाना जाता है। साबरमती...