गोल्ड कॉस्ट (Gold Cost) क्वींसलैंड (Queensland) ऑस्ट्रेलिया (Australia) के प्रमुख पर्यटक (Tourist) स्थल (Tourist Destination)



ऑस्ट्रेलिया (Australia) की पूर्व दिशा में गोल्ड कॉस्ट (Gold Cost) शहर बहुत ही सुन्दर है। गोल्ड कॉस्ट शहर में सैलानी विशेष रूप से अपनी छुट्टियों को बिताने के लिए आते है। इस शहर के समुद्री तटों की लंबाई बहुत ज्यादा है। यहाँ पर ग्लैमर के साथ सर्फिंग बहुत ज्यादा मशहूर है। ऊंची ऊंची बेशुमार इमारतें, खरीदारी के लिए बड़ी बड़ी दुकानें, थीम पार्क के साथ प्राकृतिक सुंदरता भी पर्यटकों को देखने को मिलती है। गोल्ड कॉस्ट में कई प्रकार के वन्यजीव भी देखने को मिलते है। आइए आज हम बात करते है, गोल्ड कॉस्ट क्वींसलैंड (Queensland) ऑस्ट्रेलिया के पर्यटक स्थल (Tourist Destination) के बारे में।



सरफर पैराडाइज़ समुद्री तट (Surfers Paradise Beach)


सरफर पैराडाइज समुद्री तट सर्फिंग करने के लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है। पर्यटक धूप सेंकने के साथ, समुद्र में पानी के खेलों का मजा लेते हुए नज़र आते है। बच्चे रेत के घर बनाकर खेल खेलते है। इस तट के किनारे पर ऊंची ऊंची इमारतें बहुत ही भव्य दिखाई देती है। पर्यटक तट के किनारे पर बने रेस्त्रां में खाने का स्वाद लेने के साथ, दुकानों में जा कर खरीदारी करते है। सरफर पैराडाइज समुद्री किनारे पर हर समय गोताखोर लोगों की सुरक्षा के लिए रहते है। 



स्प्रिंगबुर्क़ राष्ट्रीय उद्यान (Spring brook National park)


स्प्रिंगबुर्क़ राष्ट्रीय उद्यान बहुत ही सुन्दर पर्यटक स्थल है। इस उद्यान में वर्षा वन, चट्टानें और झरने बहुत बड़ी संख्या में मिलते है। प्राकृतिक आर्क ब्रिज इसकी सुंदरता को चार चाँद लगते हुए नज़र आता है। यहाँ पर बहुत सारी जंगली प्रजातियां देखने को मिलती है। पक्षियों में रुचि रखने वाले लोगों के लिए बहुत अच्छा स्थान है। 




स्काईपॉइंट (Skypoint)


स्काईपॉइंट ऑस्ट्रेलिया  (Australia)  के होटल क्यू 1 में स्थित है। यह इस देश का सब से लम्बी मीनार है। यहाँ से शहर का दृश्य बहुत ही खूबसूरत दिखाई देता है। स्काईपॉइंट से खूबसूरत नज़ारे लेने के लिए प्रवेश का समय सुबह 7.30 बजे से शाम 7 बजे तक है। वयस्कों के लिए 69 $, बच्चों के लिए 49 $ शुल्क लगेगा। इसके अंदर बने कैफ़े में लोग स्वादिष्ट व्यंजन का मजा ले सकते है। 



लैमिंगटन राष्ट्रीय उद्यान (Lamington National park)


वर्ल्ड हैरिटेज की सूचि में लेमिंगटन राष्ट्रीय उद्यान शामिल है। यहाँ पर प्राचीन ज्वालामुखी के अवशेष भी देखने को मिलते है। यह उद्यान पहाड़ियों के बीच में स्थित है। लैमिंगटन राष्ट्रीय उद्यान में करीब 190 पक्षियों की प्रजातियां पायी जाती है। जिनमें रंगीन तोते और बोवरबर्ड मुख्य रूप से पाए जाते है। ऊंचे ऊंचे झरनों से गिरता पानी बहुत ही सुन्दर दिखाई देता है। ओ 'रैल्ली के रेनफोरेस्ट रिट्रीट बहुत ही बढ़िया रेस्तराँ है। यहाँ सैलानियों को बहुत ही स्वादिष्ट भोजन परोसा जाता है। इस उद्यान में एक स्पा भी है, जिसमें लोग मालिश करवा कर अपने शरीर को हल्का महसूस करते है। 



कुररुम्बिन राष्ट्रीय उद्यान (Currumbin Zoo)


कुररुम्बिन राष्ट्रीय उद्यान बहुत ही खूबसूरत चिड़िया घर है। इसमें एक टॉडलर ट्रैन के द्वारा राष्ट्रीय उद्यान की सैर की जा सकती है। इसके मुख्य आकर्षण कंगारु, मगरमच्छ, लारिकेट्स है। बच्चों के लिए बहुत ही अच्छा पर्यटक स्थल है। सैलानियों के लिए सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक खुला रहता है। सरकारी छुट्टी वाले दिन या क्रिसमस वाले दिन बंद रहता है। 4 से 14 साल के बच्चों के लिए 30 डॉलर और वयस्क लोगों के लिए 49 डॉलर शुल्क लगेगा। 


वार्नर ब्रदर्स मूवी वर्ल्ड (Warner Brothers Movie World)


बच्चों के लिए वार्नर ब्रदर्स मूवी वर्ल्ड बहुत ही बढ़िया पर्यटक स्थल (Tourist Destination) है। वार्नर ब्रदर्स मूवी वर्ल्ड में बच्चे अपने सुपर हीरो से मिल सकते है। यह उनके के लिए बहुत ही खास पल होते है। पानी के खेलों के साथ, रोलर कोस्टर और 3 डी इंटरैक्टिव सवारी का मजा भी ले सकते है। सैलानी सुबह 9.30 बजे से शाम 5 बजे तक इस थीम पार्क का लुत्फ उठा सकते है। प्रवेश शुल्क वयस्क लोगों के लिए 90 $, वरिष्ठ लोगों और 3 से 13 साल के बच्चों के लिए 70 $ शुल्क लगेगा।   



सी वर्ल्ड (Sea World)


गोल्ड कॉस्ट क्वींसलैंड (Queensland) में सी वर्ल्ड बहुत ही शानदार समुद्री पार्क है। सी वर्ल्ड हर उम्र के सैलानियों के लिए बना है। इसमें डॉल्फिन के शो के साथ, रोलर कॉस्टर, समुद्री शेर, वाटर स्की बैले मुख्य आकर्षण है। गर्मी से बचने के लिए बहुत ही बढ़िया स्थान है। यहाँ पर धुर्वीय भालू, उष्णकटिबंधीय मछली, पेंगुएन के साथ छोटी शार्क मछली भी देखने को मिलती है। सभी उम्र के लोगों के लिए 90 $ शुल्क लगता है। यहाँ पर घूमने का समय सुबह सुबह 9.30 से शाम 5.30 बजे तक का है। 





कूलनगट्टा (Coolangatta)


कूलनगट्टा सर्फिंग सीखने वाले लोगों के उचित स्थान है। यहाँ का पानी शांत है। यह सर्फर पैराडाइज़ तट के पास में है। कूलनगट्टा न्यू साउथ वेल्स सीमा से पहले आखिरी शहर है। इसके समुद्री तट को सैलानियों के द्वारा बहुत ज्यादा पसंद किया जाता है। परिवार के साथ घूमने के लिए, यह समुद्री तट बेहतर विकल्प है। 



सपनों की दुनिया (Dream World)


सैलानियों के द्वारा गोल्ड कॉस्ट में सपनों की दुनिया या ड्रीम वर्ल्ड थीम पार्क को सब से ज्यादा पसंद किया जाता है। इस थीम पार्क में पानी के कई खेल, मूवी, रोलर कोस्टर, लाइव शो के साथ बहुत बड़ी संख्या में कंगारू देखने को मिलते है। सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक पर्यटकों के लिए खुला रहता है। प्रवेश शुल्क 89 $ वयस्क, 69 $ बच्चों को लगेगा। 

जानिए अरुबा आइलैंड (Aruba Island) कैरिबियन सागर (Caribbean sea) के सुन्दर समुद्री तटों (Beaches) के बारे में


अरुबा द्वीप (Aruba Island) कैरिबियन सागर (Caribbean Sea) दक्षिण अमेरिका (South America) में स्थित एक मनमोहक देश है। इस पर नीदरलैंड देश का अधिकार है। इसकी राजधानी का नाम ओरंजेस्टड है। कोलम्बिआ और वेनजुएला देशों के बहुत ही पास में स्थित है।  यह द्वीप अपने समुद्री तटों के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। पर्यटक गोताखोरी, सर्फिग और कई प्रकार के पानी के लीक खेलने के लिए आते है। इस द्वीप पर मौसम शुष्क जलवायु वाला होता है। धूप का आनंद, पतंग बाजी और तैराकी सभी को आकर्षित करने में सफल होते है। 



कैरिबियन समुंदर ने इसको चारों तरफ से घेरा हुआ है। जिसके कारण दूर दूर तक पानी के सिवा कुछ और नहीं दिखाई देता है। समुद्री तटों के सामने ऊंचे ऊंचे पेड़ तटों की सुंदरता को बढ़ाते हुए नज़र आते है। ऊंची ऊंची लहरें, कैक्टस के पौधे, कछुओं के झुंड बहुत अच्छे दिखते है। इन समुंदरी तटों से सूर्यास्त को देखने का अपना ही मजा है। आइये आज हम बात करते है, अरुबा द्वीप के सुन्दर समुद्री तटों (Beaches) के बारे में। 



डी पाम आइलैंड (Di Palm Island) 


डी पाम आइलैंड बहुत छोटा द्वीप है। यह एक निजी द्वीप है। यह द्वीप हर उम्र के लोगों को बहुत पसंद आता है। पानी के कई तरह के खेल सैलानियों का हर वक्त इंतज़ार करते हुए नज़र आते है। यहाँ की सफ़ेद रेत को देख कर हर कोई खुश होता है। पर्यटक निश्चित दाम चुकाकर जितना मर्जी खाना खा सकते है। कुछ सैलानी मालिश का लुत्फ लेते हुए नज़र आते है। डी पाम आइलैंड पर एक या दो दिन के लिए भी रुकना बहुत ही मजेदार होता है। लोग किश्ती की सवारी भी बहुत ही ख़ुशी के साथ करते है। 




बोका प्रिंस तट (Boka Prince beach)


बोका प्रिंस तट पर जोरदार हवा चलती रहती है। इस तट की ऊंची ऊंची लहरें चुना पत्थर की चट्टानों से टकराती ही रहती है। जिसके कारण डूबने का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ जाता है। यहाँ पर तैराकी करना मना है। बोका तट के रेस्त्रां में बहुत ही स्वादिष्ट भोजन खाने को मिलता है। परिवार के साथ पिकनिक मनाने के लिए बहुत अच्छा स्थान है। पर्यटक इस तट पर आकर लहरों के द्वारा पैदा हुए संगीत को बड़े आराम के साथ सुनते है। 



ईगल तट (Eagle Beach)


ईगल तट अरुबा कैरिबियन सागर (Caribbean Sea) का सब से ज्यादा शांत तटों (Beaches) में से एक है। सैलानियों के लिए इस तट पर तैराकी करना बहुत ज्यादा सुरक्षित है। पर्यटकों को हर प्रकार की सुविधा इस तट पर आराम से मिल जाती है। लग्जरी सुविधाओं के लिए बहुत बड़े बड़े होटल लोगों का इंतज़ार करते हुए नज़र आते है। यहाँ का वातावरण प्यार करने वाले लोगों के लिए या नव विवाहित जोड़ो के लिए बहुत ही खास है।



सामन्ता तट (Samanta Beach)


सामन्ता तट बहुत ही शांत आकर्षक छोटा सा तट है। इस तट पर बहुत कम संख्या में पर्यटक आते है। इसका सब से बड़ा कारण पर्यटकों में ज्यादा प्रसिद्ध ना होना। सैलानियों को समुद्री अंगूर बहुत ज्यादा देखने को मिलते है। इस तट पर मछुआरों के लिए बहुत ज्यादा मछलियां नहीं होती है। सावनता तट बेबी तट की तरफ जाते हुए आता है।



पाम तट (Palm Beach)


पाम तट ताड़ के पेड़ो से लदा हुआ है। यह तट ईगल बीच की उत्तर दिशा में स्थित है। वेकबोर्डिंग, वॉटर स्कीइंग, पैरासेलिंग और केले की आकृति में बनी किश्ती का सैलानी मजा ले सकते है। यहाँ पर पैदल चलकर भी बहुत कुछ खोजा जा सकता है। सैलानियों के बजट के अनुसार रेस्त्रां और होटल बड़े आराम के साथ मिल जाते है। इसकी रेत की पट्टी बहुत ज्यादा लम्बी है। कई प्रजाति के प्रवासी पंछियों का घर भी है। 



मालमोक तट (Maalmok Beach) 


मालमोक तट चुना पत्थर की चट्टानों में बसा हुआ है। यह एक छोटा सागर का किनारा है। यहाँ का नीला पानी और सफ़ेद रंग आकर्षक नज़ारा पेश करते है। मालमोक समुद्री तट पर बड़े होटल नहीं है। सैलानियों की सुविधा के लिए हर समय गाड़ी मिल जाती है। विंडसर्फिंग का मजा आराम से लिया जा सकता है। सूर्यास्त को देखने का मजा बहुत ही अद्भुत होता है। 



मैनचबो समुद्री तट (Manchebo Beach)


मैनचबो समुद्री तट पर सैलानियों की संख्या काफी कम होती है। यह समुद्री किनारा ईगल बीच के दक्षिण में स्थित है। यहाँ पर हर प्रकार के पानी के खेलों पर प्रतिबंध लगा हुआ है। धूप का नज़ारा बड़े आराम के साथ लिया जा सकता है। कुछ रिसोर्ट लोगों को समुद्र किनारे पर अलग अलग प्रकार की सुविधाएं भी उपलब्ध करवाते है। 



बोका कैटलीना समुद्री किनारा (Boka Katleena Beach)


स्कोर्लिंग के दीवाने लोगों के लिए बोका कैटलीना अरुबा द्वीप (Aruba Island) समुद्री तट बहुत अच्छा स्थान है। यहाँ की रेत में कंकड़ बहुत ज्यादा मात्रा में मिलते है। यह सड़क के बहुत ही पास में स्थित है। छोटी छोटी नौकाएं सैलानियों को समुद्र की सैर करवाती है। इस समुद्री किनारे पर आने से पहले पीने के लिए पानी और भोजन साथ में ले ले। स्टार फिश बहुत बड़ी संख्या में देखा जा सकता है। 





अराशी समुद्री किनारा (Arashi Beach) 


अराशी समुद्री किनारे पर बहुत ही शांत पानी है। यहाँ पर तैरने में बहुत मजा आता है। स्कोर्लिंग करने के लिए अच्छी जगह है। चट्टानें, ब्लू टेंग मछली आउट तितली मछली देख कर मन बहुत आनंदित होता है। इस समुद्री किनारे पर ज्यादा देर तक रुकने के लिए अपने साथ छतरी जरूर लाये। सैलानियों के देर तक रुकने के लिए बहुत ज्यादा इंतजाम नहीं है।  



बेबी समुद्री किनारा (Baby Beach)


बेबी समुद्री किनारे पर बच्चे स्कोर्लिंग को सीख सकते है। याद रहे इस समुद्री किनारे पर कई बार ऊंची ऊंची लहरें उठने लगती है। जिसके कारण डूबने का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ जाता है। छोटी छोटी मछलियों की बहुत संख्या देखने को मिलती है। विंड सर्फिंग और पतंग उड़ाने के लिए उपर्युक्त स्थान है। हफ्ते के आखिरी दिनों में बहुत भीड़ देखने को मिलती है।  

लंबोक इंडोनेशिया का एक बहुत सुन्दर द्वीप (A beautiful island of Lombok Indonesia)



लंबोक (Lombok) इण्डोनेशिआ (Indonesia) देश का बहुत ही सुन्दर (Beautiful) द्वीप (Island) है। यह द्वीप रोमांच के शौकीन लोगों के लिए बहुत ही बढ़िया स्थान है। इस द्वीप पर उष्णकटिबंधीय मौसम देखने को मिलता है। सैलानियों को घूमते हुए ग्रामीण जीवन देखने को मिलता है। यहाँ का वातावरण बहुत ही अद्भुत है। ट्रैकिंग के शौकीन लोग दुनिया के कोने कोने से इस द्वीप पर आते है। इण्डोनेशिआ (Indonesia) देश का सब से बड़ा ज्वालामुखी गुनुंग रिंजनी की उत्तर दिशा में स्थित है। 



गुनुंग रिंजनी (Runung Rinjani)

गुनुंग रिंजनी एक 3726 फुट की द्वीप पर ऊंची चोटी है। यहाँ के लोग इस चोटी को बहुत पवित्र मानते है। इस चोटी की चढ़ाई में 3 दिन 2 रातों का समय लगता है। गुनुंग रिंजनी चोटी पर चढ़ने के लिए सैलानियों का शरीर स्वस्थ होना बहुत ज्यादा जरूरी है। पर्यटकों को गर्म पानी के चश्मे भी देखने को मिलते है। ट्रैकिंग का सफर पूरा होने के बाद हर एक पर्यटक बहुत ही सुन्दर दृश्यों को देखता है। इन दृश्यों को देख कर हर कोई अचंभित रह जाता है। 



पर्यटकों को तम्बाकू की फसल, चावल के खेत और बाग़ देखने को मिलते है। बोकोलिक सेम्बलुन घाटी में स्थानीय लोगों के द्वारा खेती की जाती है। यहाँ के लोगों का पहरावा और व्यंजन बहुत ही खास होते है। इस क्षेत्र की ज्यादा जानकारी के लिए सैलानी गाइड भी साथ ले कर जा सकते है। सैलानियों को जीवंत ज्वालामुखी को देखने का बहुत बढ़िया अवसर प्राप्त होता है। गुनुंग रिंजनी की यात्रा को जीवन भर भूलना मुमकिन नहीं है। 



सर्फिंग (Surfing) 


सर्फिंग के शौकीन लोगों के लिए लंबोक बहुत ही मशहूर है। लंबोक (Lombok) सुमात्रा से जावा तक सरफर के लिए जाना जाता है। यहाँ पर उठने वाली पानी की लहरों को दुनिया की सब से बढ़िया लहरों में गिना जाता है। माह मई से सितम्बर तक का समय सर्फिंग करने वाले लोगों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है। इस समय 300 फुट तक की ऊंची लहरें उठती है। सरफर के लिए द्वीप के दक्षिण में कुटा से 6 किलोमीटर का क्षेत्र बहुत अच्छा है।  



 

यह भी पढ़े - हॉलीवुड नार्थ अमेरिका के 5 अच्छे होटल के बारे में जानकारी


दक्षिण लंबोक समुद्री तट (South Lambok Beach)


कुछ दिन शांति के साथ बिताने वाले लोगों के लिए दक्षिण लंबोक तट अच्छा स्थान है। यहाँ पर सिर्फ पानी की लहरों के सिवा कुछ और नहीं सुनाई देता है। इस तट के पास बसे गांव को देखने का मौका सैलानियों को मिलता है। यहाँ का ग्रामीण जीवन बहुत ही सरल है। हिंद महासागर का नील रंग का पानी सभी को बहुत भाता है। कुटा से लगभग तीन किलोमीटर की दूरी पर तैरने के लिए बहुत ही अच्छा स्थान है। 



लंबोक कैसे जाए (How Reach Lambok)


लंबोक द्वीप (Island) पर अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा की सुविधा भी उपलब्ध है। बाली से आने के लिए सिर्फ 30 मिंट लगते है। यहाँ पर इंडोनेशिया (Indonesia) के कई घरेलू हवाई जहाज आते जाते रहते है। विदेश से सिंगापुर और मलेशिया से भी हवाई जहाज आते है। 



कब जाए (When go)


माह जुलाई से अगस्त तक बहुत ही कम वर्षा होती है। जिसके कारण इस द्वीप का तापमान बहुत ज्यादा नहीं होता है। इसके बार अक्तूबर से अप्रैल के महीनों में बहुत ज्यादा बारिश होती है। जिसके कारण सैलानियों का आना बहुत ज्यादा कम हो जाता है। उष्णकटिबंधीय मौसम होने के कारण ज्यादातर लंबोक में बहुत ज्यादा गर्मी होती है। 


हॉलीवुड नार्थ अमेरिका के 5 अच्छे होटल के बारे में जानकारी



हॉलीवुड (Hollywood) उत्तरी अमेरिका (North America) के फिल्म उद्योग से जुड़ा शहर है। यह शहर लॉस एंजिल्स के क्षेत्र में आता है। वर्ष 1903 में इसे नगरपालिका के रूप में स्वीकार किया गया था। वर्ष 2010 में इसे लॉस एंजिल्स में शामिल किया गया था। पैरामाउंट पिक्चर्स, वार्नर ब्रदर्स, और यूनिवर्सल पिक्चर्स स्टूडियो की स्थापना की गयी थी। इस समय कुछ स्टूडियो पैरामाउंट के बचे है। लॉस एंजिल्स में शामिल होने के बाद दुनिया के सामने हॉलीवुड बहुत तेज़ी के साथ उभर के आया। 

                            

                                        


आम लोग भी हॉलीवुड (Hollywood) शहर में घूम सकते है। सैलानियों के लिए टीसीएल चीनी रंगमंच, हॉलीवुड की शान, हॉलीवुड बॉलवर्ड और सूर्यास्त पट्टी बहुत बढ़िया स्थान है। यह परिवार के साथ घूमने के लिए बहुत अच्छी जगह है। यहाँ होटल, रेस्त्रां और खरीदारी भी की जा सकती है। यह शहर दूसरे शहरों की अपेक्षा में काफी महंगा है। आइए आज हम बात करते है हॉलीवुड शहर के प्रसिद्ध (Famous) होटल (Hotel) के बारे में जानकारी (Information)। 



डब्लू होटल (W Hotel)


सैलानियों के घूमने के लिए डब्लू होटल हॉलीवुड (Hollywood) उत्तरी अमेरिका (North America) का बहुत ही महंगा होटल है। यहाँ पर शराब और ग्लैमर आम ही देखने को मिल जाता है। होटल की फाइव स्टार सुविधा लोगों को अपनी तरफ खींचते नज़र आती है। इस जगह आकर पर्यटकों को लगता है कि वह किसी दूसरी दुनिया में आ गए हो। हर तरह का ऐशों आराम पैसे दे कर पा सकते है।


यह भी देखे :- हॉलीवुड (Hollywood) नार्थ अमेरिका (North America) होटल बुक करने के लिए क्लिक करें



ड्रीम होटल (Dream Hotel)


ग्लैमर के शौकीन लोगों के लिए ड्रीम होटल हॉलीवुड (Hollywood) बहुत ही अच्छा होटल है। ड्रीम होटल में छत वाले पूल, बढ़िया से बढ़िया कमरे, नर्म बिस्तर, कैब बहुत आसानी से मिल जाएंगे। इस होटल की खिड़की से दूर दूर तक के नज़ारे देखने को मिलते है। यहाँ पर 24 घंटे जिम को खुला रखा जाता है। कोई भी किसी भी समय जा कर कसरत कर सकता है। 



कॉम्प्टन एवेरली होटल (Crompton Everly Hotel) 


कॉम्प्टन एवेरली होटल अपनी सुविधाओं के लिए पूरे उत्तरी अमेरिका में मशहूर है। छत वाला पूल, साफ़ सफाई, नर्म बिस्तर, खुशनुमा माहौल हर किसी का दिल जीत लेते है। पर्यटकों की हर सुविधा का पूरा पूरा ध्यान रखा जाता है। इस होटल के कर्मचारी भी बहुत अच्छे से बात करने वाले है। यह होटल शहर में आने जाने के लिए हर तरह की जानकारी (Information) उपलब्ध करवाता है



वेस्टर्न प्लस होटल (Western Plus Hotel)


वेस्टर्न प्लस होटल आम लोगों के लिए अच्छा होटल है। हर प्रकार की सुविधा होटल में रहने वाले मेहमानों को दी जाती है। सुबह का नाश्ता बिलकुल फ्री दिया जाता है। यहाँ की सजावट को देख कर जाने का मन ही नहीं करता है। इस में पब की सुविधा भी शामिल है। सैलानियों को आने जाने के लिए कैब होटल के द्वारा ही बुक करवा दी जाती है।  


अमेरिकास बेस्ट वैल्यू इन होटल (Americas Best Value Inn)


अमेरिकास बेस्ट वैल्यू इन होटल में लोग अपने परिवार के साथ बहुत ही आराम के साथ रह सकते है। यहाँ पर पार्किंग की सुविधा, सुबह का नाश्ता, इंटरनेट सेवा बिलकुल मुफ्त है। इस होटल के बगीचे में लोग घूमने के लिए जा सकते है। कमरे में फ्रीज़, फ़ोन, ओवेन की सुविधा भी प्रदान की जाती है। यह एक रुकने के लिए अच्छा विकल्प है। 



सहदे होटल मेनहट्टन बीच  (Shade Manhattan Beach Hotel)


सहदे होटल मेनहट्टन बीच परिवार के साथ रुकने के लिए अच्छा होटल है। बच्चों के खेलने के लिए खिलौने, स्विमिंग पूल के साथ वीडियो गेम भी मिल जायेंगे। होटल की सजावट बहुत ही सुन्दर और भव्य है। धुप सेंकने के लिए स्विमिंग पूल के साथ कुर्सियां लगी हुई है। होटल का खाना बहुत ही स्वादिष्ट होता है। एयर पोर्ट से आने जाने के लिए कैब फ्री, इंटरनेट सेवा बिलकुल मुफ्त है। 

भोपाल (Bhopal) के विख्यात (Famous) पर्यटक स्थल (Tourist place) के बारे में जानकारी (Information) विस्तार सहित


भोपाल (Bhopal) शहर को झीलों के लिए जाना जाता है। इसको झीलों की नगरी (Lake of city) कह कर भी पुकारा जाता है। यह मध्य प्रदेश की राजधानी है। इसका नामकरण राजा भोज के नाम पर हुआ। यह शहर अपनी प्राकृतिक सुंदरता, प्राचीन इमारतों के लिए जाना जाता है। सैलानियों के लिए इस नगर में बहुत कुछ है। आइये आज हम बात करते है. भोपाल के विख्यात (Famous) पर्यटक स्थल (Tourist place) के बारे में जानकारी (Information) विस्तार सहित।   



बड़ा तालाब (Bada Talab)


बड़ा तालाब भोपाल की झील का नाम है। यह इस नगर की सब से बड़ी झील है। इसको अपर लेक के नाम से भी संबोधित किया जाता है। इसके किनारे पर भोपाल राजा राजा भोज की मूर्ति स्थापित है। हर दिन बहुत बड़ी संख्या में लोग सूर्यास्त को देखने और किश्ती की सवारी के लिए आते है। सैलानी कैनोइंग, राफ्टिंग के साथ साथ पैरासेलिंग का भी आनंद ले सकते है।  


किश्ती या क्रूज़ में सवारी करने के लिए 80 से 250 रुपए शुल्क लगता है। यहां पर घूमने के लिए सब से बढ़िया समय अक्तुबर से अप्रैल तक का है। बड़ा तालाब भोपाल हवाई अड्डे से सिर्फ 9 किलोमीटर और स्टेशन से सिर्फ 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहाँ पर बना ब्रिज लोगों को कैमरा उठाने के लिए मजबूर कर देता है।    



वन विहार राष्ट्रीय उद्यान (Van Vihar National Park) 


जीव जंतुओं में रुचि रखने वाले लोगों के लिए वन विहार राष्ट्रीय उद्यान बहुत ही बढ़िया पर्यटक स्थल (Tourist place) है। वन विहार राष्ट्रीय उद्यान में पालतू और जंगली जीव दोनों ही देखने को मिलते है। इसका क्षेत्रफल 4.5 वर्ग किलोमीटर है। जंगल में ज्यादा आगे जाने के लिए गाड़ी का उपयोग किया जाता है। यह घने पेड़ों में बसा हुआ है।  


वन विहार राष्ट्रीय उद्यान को देखने के लिए भारतीय लोगों को 50 रुपए, विदेशी लोगों को 200 रुपए, कैमरा ले जाने पर 50 और वीडियो कैमरा ले जाने पर 300 रुपए शुल्क लिया जाता है। वाहन में घूमने के लिए 100 रुपए से 400 शुल्क वसूला जाता है।  जिन सैलानियों ने साईकल पर घूमना हो, उन्हें 10 रुपए प्रति घंटा पैसा देना होता है। पर्यटकों के लिए घूमने का समय सुबह 6.30 बजे से शाम 6 बजे तक है।  




गोहर महल (Gohar Palace)


कुदसिया बेगम के नाम पर गोहर महल का नाम रखा गया था। यह बहुत ही उच्च कोटि की भोपाल की महिला शासक थी।  गोहर महल में प्रति वर्ष जनवरी और फ़रवरी में उत्सव का आयोजन किया जाता है।  इस उत्सव में भाग लेने के लिए देशी विदेशी कलाकार आते है। इस उत्सव में शामिल होने वाले कलाकारों को सम्मानित भी किया जाता है।   




शौकत महल (Shaukat Palace)


19 वी शताब्दी में शौकत महल का निर्माण बेगम गौहर की बेटी सिकंदर बेगम ने करवाया था।  इस महल की बनावट यूरोपियन शैली की है।  इसकी वास्तुकला को देख कर सैलानी हैरान रह जाते है। जिन लोगों को कवाल्ली सुनने का आनंद लेना हो, वह इस महल में जरूर आये।  हर विशेष मौके पर कवाल्ली का आयोजन होता है।  




क्रेन वाटर पार्क (Cairns Water Park)


गर्मियों के दिनों में भोपाल का आकर्षण केंद्र क्रेन वाटर पार्क है। लोगों को खेलने के लिए बहुत सारे पानी के खेल मिलते है। यहाँ पर बजने वाला संगीत मन को बहुत ज्यादा शांति प्रदान करता है। स्थानीय लोग गर्मियों के दिनों में बड़ी बड़ी संख्या में जाते है। यह भोपाल शहर से करीब 32 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। 



यह भी पढ़े :- मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के विख्यात शहरों (Famous cities) के पर्यटक स्थल (Tourist place) के बारे में जानकारी

ताज उल मस्जिद (Taj Ul Mosque)


ताज उल मस्जिद को एशिया की सब से बड़ी मस्जिदों में गिना जाता है। इतिहासकारों का कहना है कि इस मस्जिद का निर्माण ताज मुग़ल बादशाह बहादुर शाह जफ़र ने वर्ष 1844 के आस पास करवाया था। इसकी वास्तुकला को देख कर हर कोई खुश हो जाता है। ताज उल मस्जिद में एक साथ 175000 लोग नमाज़ अदा कर सकते है। भोपाल स्टेशन से सिर्फ 3 किलोमीटर और हवाई अड्डे से 12 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। 




मोती मस्जिद (Moti Mosque)


मोती मस्जिद को पर्ल मस्जिद के नाम से भी जाना जाता है। इसका निर्माण बेगम सिकंदर ने करवाया था। इस मस्जिद की बनावट दिल्ली जामा मस्जिद से बहुत ज्यादा मिलती जुलती है। हर सप्ताह शुक्रवार वाले दिन बहुत बड़ी संख्या में लोग नमाज अदा करने के लिए आते है। लाल पत्थर और संगमरमर के द्वारा इस मस्जिद का निर्माण किया गया है। यहाँ पर लगे संगमरमर पत्थर की चमक ज्यादा होने के कारण मोती मस्जिद कहा जाता है।  




शौर्य स्मारक (Shaurya Smarak)


भारत देश की थल सेना, जल सेना और वायु सेना के जवानों के बलिदान को याद रखने के लिए शौर्य स्मारक का निर्माण करवाया गया। इसका उद्घाटन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 अगस्त 2014 में किया था। इसका क्षेत्रफल 12 एकड़ के करीब है। यहाँ पर 62 फुट लंबा ग्रेनाइट पत्थर से बना शौर्य स्तंभ है। इस स्तंभ के ठीक नीचे अमर ज्योति हर समय जगती रहती है। प्रति बुधवार छोड़कर सुबह 12 बजे से शाम 7 बजे तक सैलानियों के लिए खुला रहता है। यह भोपाल के मुख्य पर्यटक स्थल (Tourist place) में से एक है




भीमबेटका (Bheemteka Mosque)


वर्ष 2003 में वर्ल्ड हैरिटेज की सूचि में भीमबेटका को शामिल किया गया। यहाँ पर सैलानियों को महाभारत के पांडव पुत्र भीम की जीवन शैली के बारे में जानकारी (Information) मिलती है। यहाँ पर 30000 साल पुराने शिलालेख देखने को मिलते है। सैलानी छोटी बड़ी 500 से भी ज्यादा गुफाओं को देख सकते है। यह भोपाल नगर से 45 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। 


भारत के लोगों के लिए 10 रुपया प्रति व्यक्ति, 100 रुपया विदेशी प्रति व्यक्ति और मोटर राइड लेनी हो, तो भारतीय से 50 और विदेशी से 200 रुपए शुल्क लिया जाता है। यह बहुत ही प्रसिद्ध (Famous), अद्भुत और मनमोहक स्थान है। 




भोज पूरी मंदिर (Bhoj Puri Temple) 


भोज पूरी मंदिर का निर्माण राजा भोज के द्वारा 11 शताब्दी में करवाया गया था। यह मंदिर हिन्दू भगवान शिव को समर्पित है। यहाँ पर स्थित शिवलिंग दुनिया में सब से बड़ा शिवलिंग माना जाता है। इस शिवलिंग की ऊँचाई 3.5 मीटर और परिधि 18 फुट है। शिवरात्रि के समय बहुत बड़ी संख्या में लोग, इस मंदिर में नतमस्तक होने के लिए आते है। 

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के विख्यात शहरों (Famous cities) के पर्यटक स्थल (Tourist place) के बारे में जानकारी


मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) प्राकृतिक सुंदरता, वन्य जीव और ऐतिहासिक इमारतों के लिए प्रसिद्ध है। इस राज्य को "भारत का दिल" या "हार्ट ऑफ़ इंडिया" "Heart of India" के नाम से भी जाना जाता है। सैलानियों के लिए यह राज्य बहुत ही अच्छा स्थान है। यह भारत की संस्कृति को पूरी तरह से दिखाने वाला राज्य है। इस राज्य का हर शहर अपनी सुंदरता और संस्कृति को प्रस्तुत करता नज़र आता है। आइए आज हम बात करते है, मध्य प्रदेश के विख्यात शहरों (Famous cities)  के पर्यटक स्थल (Tourist place) के बारे में जानकारी। 



भोपाल (Bhopal)


झीलों वाला नगर या लेक ऑफ़ सिटी (Lake of city) के नाम से भोपाल जाना जाता है। भोपाल में दो मानव निर्मित झील भी स्थित है। इस शहर को हरियाली के लिए भी जाना जाता है। पर्यटकों के लिए जमा मस्जिद, भोजेश्वर मंदिर, मोती मंदिर, शौकत महल, ताज उल मस्जिद, गुफा मंदिर, छोटी झील, बड़ी झील और शौर्य स्मारक बहुत महत्वपूर्ण स्थान है। 



मांडू (Mandu)


रानी रूपमती और बादशाह बाज बहादुर के प्रेम की भरने वाला मांडू शहर है। मांडू शहर पहाड़ी के ऊपर बसा हुआ है। यहाँ पर बनी ऐतिहासिक इमारतें और प्राकृतिक सुंदरता हर किसी मन मोह लेती है। इस नगर में घूमने के लिए रूपमती मंडप, नील कंठ महल, जहाज़ महल, बाज बहादुर महल, अशरफी महल, होशंगशाह का मकबरा, दारा खान का मकबरा और जामी मस्जिद बहुत अच्छे स्थान है।



ग्वालियर (Gwalior)


भारत देश के गौरव से भरे इतिहास को प्रस्तुत करने वाला ग्वालियर नगर है। ग्वालियर में मंदिर, प्राचीन इमारतें, महल अपनी सुंदरता को पेश करते नज़र आते है। इस शहर के आस पास बहुत सारी पहाड़ियों देखने को मिलती है। ग्वालियर किला, सास बहु मंदिर, तानसेन तेली मंदिर, जय विलास महल, मान सिंह महल और सिंधिया संग्रहालय पर्यटकों का आँखें बिछाकर इंतज़ार करते नज़र आते है।  



साँची (Sanchi)


बौद्ध मठ, कलाकृति और साँची स्तूप के लिए साँची नगर विख्यात है। साँची नगर पहाड़ी के ऊपर बसा नगर है। यह एक शांति से भरा सुंदर शहर है। यहाँ पर बनी इमारतों की वास्तुकला को देख कर हर सैलानी हैरान रह जाता है। जिन लोगों को भीड़ भाड़ वाले स्थान पसंद ना हो उनके लिए साँची बहुत ही अच्छी जगह है। यहाँ की हरियाली हर किसी का मन मोह लेती है।  





ओरछा (Orchha)


श्री राम की नगरी या शाही शहर के नाम से ओरछा को जाना जाता है। ओरछा बेतवा नदी के किनारे पर बसा हुआ है। जिन्हें इतिहास में सूचि हो, उनके लिए स्वर्ग से कम नहीं है। यहाँ की प्राचीन इमारतें, महल और मंदिर अपने अपने इतिहास को दर्शाते नज़र आते है। लक्ष्य मंदिर, ओरछा महल, जहांगीर महल, राम राजा मंदिर, फूल बाग़, पालकी महल, हरदौल महल और प्रवीण महल सैलानियों के घूमने के लिए प्रमुख स्थान है।  



पन्ना राष्ट्रीय पार्क (Panna National Park)


पन्ना राष्ट्रीय पार्क प्रकृति प्रेमियों और जीव जंतुओं में रुचि रखने वाले लोगों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है। यह पार्क रॉयल बंगाली टाइगर के लिए जाना जाता है। इसका क्षेत्रफल लगभग 542.56 किलोमीटर है। इस उद्यान में चीता, जंगली कुत्ता, भेड़िया, सुस्त भालू, चौसिंघा जैसे जंगली जीव और 200 से ज्यादा पक्षी प्रजाति देखने को मिलती है। यहाँ पर्यटक नव पाषाण युग की कुछ ऐतिहासिक इमारतें भी देख सकते है। 



उज्जैन (Ujjain) 


हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार उज्जैन एक पवित्र नगर है। उज्जैन महाकाल नगरी के नाम से भी विख्यात है। इसका प्रमुख कारण हिन्दू भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंग में से एक इस नगर में स्थित है। यहाँ पर सैलानियों को हर तरफ भक्ति माहौल दिखाई देगा। वास्तुकला और बुंदेला कला के लिए इस शहर को जाना जाता है। देश का सब से बड़ा कुम्भ मेला उज्जैन में ही लगता है। भैरव नाथ मंदिर, महाकालेश्वर मंदिर और मंगलनाथ मंदिर सैलानी जरूर देखने जाते है। 



खुजराहों (Khajuraho)


खुजराहों मध्य प्रदेश का छोटा सा नगर है। यह दुनिया के कोने कोने में अपनी वास्तुकला और सुन्दर कामुक मूर्तियों के लिए विख्यात है। यह शहर 22 मंदिरों को जोड़ कर बनाया गया है। कंदरिया महादेव मंदिर, विश्वनाथ मंदिर, लक्ष्मण मंदिर, चित्रगुप्त मंदिर, पार्शव नाथ मंदिर, मतंगेश्वर, बीजामंडल मंदिर, चौसठ योगनी, देवी जगदम्बा, वामन मंदिर और दुल्हादेव मंदिर खुजराहो के प्रमुख स्थानों में से एक है।



पंचमढ़ी (Panchmadi)


प्राकृतिक नज़रों का आनंद लेने के लिए पंचमढ़ी मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) बहुत ही बढ़िया स्थान है। पंचमढ़ी में आकर लोग बाहरी दुनिया को भूल जाते है। यह एक मनमोहक हिल्स स्टेशन है। यहाँ पर कई बॉलीवुड फिल्मों के दृश्यों को भी फिल्माया गया है। सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान, अप्सरा विहार, पनापानी, जटाशंकर, महादेव मंदिर और हांड़ी कोह बहुत ही सुन्दर दर्शनीय स्थल है।



इंदौर (Indore)


इंदौर को सब से ज्यादा सुन्दर विख्यात शहरों (Famous cities) में से एक माना जाता है। यहाँ प्राचीन इमारतें, मंदिर, महल के साथ उद्यान इसकी सुंदरता को नया रूप देते नज़र आते है। यह शहर हर किसी को अपनी तरफ आकर्षित करता है। नेहरू उद्यान, राजवाड़ा महल, लालबाग महल, कांच मंदिर और मुहादि जलप्रपात इंदौर के मुख्य पर्यटक स्थल (Tourist place) में से एक है।