बुधवार, 15 जनवरी 2020

तमिलनाडु में घूमने वाली जगह (Tamil nadu tourist places)

भारत की दक्षिण दिशा में तमिलनाडु (Tamil nadu) बहुत ही सुन्दर राज्य है। तमिलनाडु में हर साल बहुत बढ़ी संख्या में लोग घूमने की लिए आते है। शाही जीवन, महल, हिल स्टेशन, पौराणिक मंदिर पर्यटकों को अपनी तरफ खींचने का काम करते है। प्राकृतिक और ऐतिहासिक दोनों का बहुत बढ़िया सुमेल है। आइये आज हम बात करते है, तमिलनाडु (Tamil nadu) के पर्यटन स्थलों (Tourist places) की बारे में।



रामेश्वरम मंदिर (Rameshwaram Temple)


हिन्दू धर्म कि मान्यताओं की अनुसार जिस जगह पर हिन्दू भगवान राम ने श्रीलंका में जाने की लिए पुल बनाया था, उसी स्थान पर रामेश्वरम मंदिर की स्थापना ही गयी थी। रामेश्वरम मंदिर एक द्वीप पर स्थित है।  यह मंदिर बहुत ज्यादा सुन्दर और मन को शांति प्रदान करने वाला स्थान है। हर साल लाखों की तादाद में तीर्थ यात्री इस स्थान पर नतमस्तक होने की लिए आते है। मंदिर की वास्तुकला बहुत ही सुन्दर है।



ऊँटी (Ooty)


जिन सैलानियों को प्रकृति से प्रेम है, उन लोगों की लिए ऊँटी बहुत बढ़िया स्थान है। पर्यटक दुनिया की कोने कोने से ऊँटी (Ooty) में घूमने की लिए आते है। इस की समुद्र ताल से उँचाई 2240 मीटर है। यह जगह नील गिरी की पहाड़ियों में स्थित है। नए शादी की जोड़े इस स्थान को सब से ज्यादा चुनते है अपने हनीमून की लिए। यहाँ रेल में सफर करने वाले शौकीन लोगों के लिए एशिया का सब से लम्बा रेलवे ट्रैक पर स्थित है। पर्यटकों की द्वारा इसे "पहाड़ियों की रानी" नाम से भी जाना जाता है।




कन्याकुमारी (Kanyakumari)


समुद्र की किनारे पर कन्याकुमारी बहुत ही सुन्दर शहर है। कन्याकुमारी को सब ज्यादा धार्मिक दृष्टि से महत्व दिया जाता है। इस शहर में कई पौराणिक मंदिर भी स्थित है, लेकिन देवी भगवती का कन्याकुमारी मंदिर सब से ज्यादा प्रसिद्ध है। इस मंदिर का इतिहास 3000 साल पुराना है। पर्यटकों की लिए पहाड़, समुद्री तट, मंदिर, नारियल की पेड़, चावल की खेत देखने लायक है।



कांचीपुरम (Kanchipuram)


कांचीपुरम में बहुत बढ़िया संख्या में पौराणिक मंदिर है। यह जगह हिन्दू तीर्थ यात्रिओं की लिए स्वर्ग से कम नहीं है। भगवान शिव की पत्नी कामाक्षी देवी का कांची कामाक्षी मंदिर इस शहर में स्थित है। कांचीपुरम में भारत देश का सब से ज्यादा उँचाई पर स्थित और बाद मंदिर एकमबेशवर मंदिर भी स्थित है। शास्त्रीय संगीत का आनंद लेने वाले लोगों के लिए कांची मठ बहुत ही बढ़िया स्थान है।




कोडाइकनाल (Kodaikanal)


समुद्र तल से लगभग 7200 फुट की ऊँचाई पर स्थित कोडाइकनाल (Kodaikanal) बहुत ही सुंदर जगह है। स्थानीय लोगों के मुताबिक कोडाइकनाल का अर्थ "वनों का उपहार" है। इस जगह बहुत बढ़िया संख्या में पेड़ है। नए शादी शुदा जोड़ो के लिए हनीमून मनाने के लिए बहुत बढ़िया स्थान है। यहाँ  का वातावरण सैलानियों को खुद ब खुद रोमांटिक बना देता है।



मदुरई (Madurai)


जिन लोगों को स्ट्रीट फ़ूड का आनंद लेने में मजा आता है, उनके लिए मदुरई बहुत बढ़िया स्थान है। इस शहर को तमिलनाडु का सब से पुराना शहर कहा जाता है। पांडवों ने इस स्थान पर लम्बे समय तक शासन किया था। मदुरई में गांधी संग्रहालय में खून से सनी गाँधी जी की धोती की रखा गया है। मीनाक्षी देवी का बहुत ही सुन्दर मंदिर की शहर की प्रसिद्धि में इजाफा करता है।



महाबलीपुरम (Mahabalipuram)


बंगाल की खाड़ी के किनारे पर कोरामंडल तट पर महाबलिमपुरम मंदिर स्थित है। महाबलिमपुरम मंदिर और गुफाओं के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। मगरमच्छ बहुत बड़ी संख्या में देखने को मिल जाते है। यूनेस्को ने इस शहर के कुछ स्थानों को विश्व धरोहर में शामिल किया है।



यरकौड (Yercaud)


यरकौड बहुत ही सुन्दर लेकिन छोटा सा हिल स्टेशन है। झरने, चर्च, मंदिर, ट्रैकिंग, प्राकृतिक दृश्य यरकौड को प्रसिद्धि दिलवाते है। पर्यटकों को इस स्थान पर आकर बहुत अच्छा महसूस होता है। सूर्यास्त और सूर्य उदय का बहुत बढ़िया नज़ारा देखने को मिलता है। 



कोयंबटूर (Coimbatore)


कोयंबटूर बहुत ही सुन्दर और औद्योगिक नगर है। प्राचीन मंदिर, पहाड़, झरने और कपड़े उद्योग के लिए बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है। पर्यटकों के करने के लिए ट्रैकिंग और कैंपिंग दोनों की सुविधाएं उपलब्ध है। परिवार के साथ घूमने के लिए यह स्थान बहुत ही बढ़िया है। रोमांच के शौकीन पर्यटकों के लिए यह जगह जन्नत से कम नहीं है।


येलागिरी (Yelagiri)


येलागिरी 30 वर्ग किलोमीटर में फैला छोटा सा हिल स्टेशन है। पर्यटकों को देखने के लिए कैर प्रकार के फूल मिल जायेंगे। येलागिरी में भीड़ भाड़ बहुत ही कम होती है, जिसके कारण शांति पसंद पर्यटकों के लिए यह बहुत बढ़िया स्थान है। शुद्ध शहद के लिए यह स्थान बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है।




मदुमलाई राष्ट्रीय पार्क (Madumalai National Park)


मदुमलाई राष्ट्रीय पार्क में पर्यटकों को लुप्त होने वाली कई जानवरों की प्रजातियां देखने को मिलती है। प्राकृतिक दृश्य बहुत ही सुन्दर देखने को मिलता है।



कुम्भकोणम (Kumbakonam)


भारत के दक्षिण में बहने वाली नदियाँ कावेरी और अरसाला के बीच में बसा हुआ है। इतिहास और अलग अलग संस्कृति को जानने वाले लोगों के लिए यह स्थान बहुत बढ़िया है। यहाँ के पौराणिक मंदिर अपने इतिहास को बचते हुए दिख रहे है। महा तन्खा त्यौहार कुम्भकोणम में हर 12 साल के बाद मनाया जाता है।



अन्नामलाई राष्ट्रीय पार्क (Anamalai National Park)


अन्नामलाई राष्ट्रीय पार्क विशेष तौर पर टाइगर की प्रजाति को बचने के लिए बनाया गया है। प्रकृति प्रेमियों के लिए यह स्थान बहुत बढ़िया है। दुनिया के कोने कोने फोटोग्राफर इस पार्क में फोटो खींचने के लिए आते है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया कमेंट बॉक्स में कोई भी स्पैम लिंक न डालें।

अहमदाबाद गुजरात भारत के पर्यटन स्थल के बारे में विस्तार सहित जानकारी

अहमदाबाद (Ahmedabad) गुजरात का बहुत ही सुन्दर शहर है। यह पहले गुजरात की राजधानी हुआ करता था। इसको कर्णावती नाम से भी पहचाना जाता है। साबरमती...