ads

भारत देश में ऐतिहासिक किले, जो दुनिया भर में प्रसिद्ध है (Historical fort in the country of India, which is famous worldwide)

भारत देश में ऐतिहासिक इमारतों की भरमार है। हर राज्य में बहुत ही सुन्दर किले और महल है। क़िले और महलों की सुंदरता को निहारने के लिए देश विदेश से बहुत बड़ी संख्या में लोग घूमने के लिए आते है। आइए आज बात करते है भारत देश के कुछ दुनिया भर में प्रसिद्ध किलो के बारे में।


आगरा किला (Agra fort)

वर्ष 1573 में मुग़ल सम्राट अकबर (Akbar) ने आगरा शहर में किला Agra fort) बनवाया था। आगरा में बने इस किले की सुंदरता को देख कर हर कोई दांग रह जाता है। यह किला अपनी वास्तुकला और नक्काशी के लिए दुनिया भर में मशहूर है। मुग़ल बादशाह अकबर के बाद इस किले पर राजपूत राजा पृथ्वी चंद ने इस पर कब्ज़ा किया, उसके बाद महमूद गजनवी ने इस किले को अपने अधिकार में ले लिया था। इस सुन्दर किले के अंदर पूरा शहर बसा हुआ था। आगरा किले में मोती मस्जिद, दीवान-ए-आम, दीवान-ए-खास, मुसम्मन बुर्ज, जहांगीर पैलेस, खास महल और शीश महल पर्यटकों के देखने वाले स्थान है।


मेहरानगढ़ किला, राजस्थान (Mehrangarh fort, Rajasthan)

राजस्थान के मेहरानगढ़ (Mehrangarh fort) किले को राजा मान सिंह ने करीब 500 साल पहले बनवाया था। इस किले की ख़ासियत यह है कि इस में 7 दरवाजे है। हर दरवाजे को राजा के जंग जीतने कि याद में एक स्मारक के तौर पर बनवाया है। मेहरानगढ़ किले के ज्यादा ऊंचाई पर होने के कारण, वातावरण बहुत ही साफ़ और ठंडा है। शीश महल, माँ चामुंडा देवी का मंदिर, मोती महल पर्यटकों के देखने के लिए बहुत ही बढ़िया स्थान है।


यह पढ़े :- चेन्नई में घूमने वाली जगहों के बारे में जानकारी।

चित्तौड़ गढ़ का किला (Chittorgarh fort, Chittor)

7 वी से 16 वी शताब्दी में राजपूत वंश के सुनहरी समय का गवाह चित्तौड़ गढ़ का किला (Chittorgarh fort) है। चित्तौड़ में बेराच नदी पर चित्तौड़ गढ़ का किला स्थित है। इस किले का क्षेत्रफल 700 एकड़ है। क़िले की ज़मीन से ऊंचाई करीब 500 फुट है। चित्तौड़गढ़ किले में प्रवेश करने के लिए सात दरवाजे है। यह प्रवेश द्वार पैदल पोल, भैरव पोल, हनुमान पोल, गणेश पोल, जोली पोल, लक्ष्‍मण पोल और राम पोल के नाम से जाने जाते है। क़िले में दो बहुत मशहूर तालाब है, जिनके नाम विजय स्तम्भ और राणा स्तम्भ है। वास्तुकला और नक्काशी इस क़िले की देखने वाली है।

ग्वालियर का किला, मध्यप्रदेश (Gwalior fort, Madhya pradesh)

राजा मान सिंह तोमर मध्य प्रदेश के ग्वालियर शहर में बहुत ही सुन्दर किला (Gwalior fort) बनवाया था। ग्वालियर के इस किले की सुंदरता को देख कर हर किसी का दिल आनंद से भर जाता है। यह 15 शताब्दी में बना महल राजा मान सिंह और रानी मृगनयनी की मुहब्बत को आज भी ताज़ा रखे हुए है। इस किले को बनाने के लाल बलुआ पत्थर का इस्तेमाल किया गया है। कहा जाता है कि इस किले में आक्रमणकारी के लिए प्रवेश करना ना मुमकिन जैसा था। पर्यटकों का दिन इस महल में घूमने के लिए बहुत ही काम पड़ जाता है।


लाल किला, दिल्ली (Red fort, Delhi)

भारत की प्रसिद्ध ऐतिहासिक धरोहरों में से एक लाल किला है। लाल किले (Red fort) को मुग़ल बादशाह ने 1618 से 1647 तक करवाया था। कुछ लोगो का कहना है कि इस किले का पहला नाम लाल कोट था। लाल कोट का निर्माण कार्य राजा अनंतनाग ने शुरू करवाया, जिसे पृथ्वी राज चौहान ने पूरा करवाया था। मुग़ल बादशाह शाहजहाँ ने इसे बाद में तुर्क शैली में बदल दिया था। नक्करख़ाना, दीवान-ए-आम, नहर-ए-बहिश्त, ज़नाना, खास महल, दीवान-ए-ख़ास, मोती मस्जिद, हयात बख़्श बाग इस किले में पर्यटकों के देखने वाले स्थान है।


यह देखे:- मनीला के पर्यटन स्थलों के बारे में जानकारी

कुम्भलगढ़ का किला, राजस्थान (Kumbhalgarh fort, Rajsthan)

राजस्थान के महाराज कुम्भा ने कुम्भलगढ़ किले (Kumbhalgarh fort) का निर्माण करवाया था। कुम्भलगढ़ किले को कोई भी आक्रमणकारी कभी जीत नहीं पाया है। किले के अंदर करीब 360 मंदिर है, जिनमें 300 जैन मंदिर और 60 हिन्दू मंदिर है। इस किले के मैदानी भाग में खेती और जलाशय बनाये गए और ऊंचे भाग में मंदिर, महल बनाये गए।

गोलकुंडा का किला, हैदराबाद (Golconda fort, Hyderabad)

गोलकुंडा किले (Golconda fort) का निर्माण काकतिया राजाओं द्वारा करवाया गया था। इस किले में आठ दरवाजे है प्रवेश करने के लिए। 1687 में इस किले पर औरंगजेब से राज किया था। यह किला ग्रेनाइट कि पहाड़ी पर बना हुआ है। हर साल लाखों कि संख्या में लोग इस किले को देखने के लिए आते है।

मुझे उम्मीद है कि आप को मेरा यह लेख पसंद आया होगा। कृपया अपने विचार कमेंट के द्वारा जरूर दें। धन्यवाद।

Maninder singh "mani"
+91-9216210601

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कृपया कमेंट बॉक्स में कोई भी स्पैम लिंक न डालें।