गुरुवार, 19 दिसंबर 2019

केरला, भारत के पर्यटन स्थल के बारे में (Kerala, India tourist places information)

भारत देश का बहुत ही सुन्दर राज्य का नाम केरला (Kerala) है। यह अपनी सुंदरता के कारण पूरी दुनिया में बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है। समुद्री तट, प्राचीन इमारतें, शुद्ध जलवायु इस राज्य की सुंदरता में चार चाँद लगाने का काम करते है। भारत के सभी राज्यों की तुलना में, यहाँ के लोग सब से ज्यादा शिक्षित लोग है। आइए आज हम बार करते है केरला के पर्यटन स्थलों (Kerala tourist places) के बारे में 




अल्लेप्पी सिटी (Alleppey city)


अल्लेप्पी सिटी केरला के सब से ज्यादा सुन्दर शहरों में से एक है। पर्यटकों के लिए यहाँ पर समुद्री तट, प्राचीन मंदिर, नौका दौड़, नदियां मुख्य आकर्षण का केंद्र है। केरला में हाउस बोट और गांव के जीवन का आनंद लेने के लिए बहुत ही बढ़िया स्थान है। अल्लेप्पी में आने वाले लोगों को यहाँ पर आकर बहुत ही बढ़िया जीवन का अनुभव होता है। 



मुन्नार (Munnar)


केरला (Kerala) में चाय बाग़ान के लिए मुन्नार बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध है। मुन्नार बहुत ही सुन्दर हिल स्टेशन भी है। एराविकुलम नेशनल पार्क, सलीम अली बर्ड्स पार्क और यहाँ के चाय बाग़ान पर्यटकों की पहली पसंद में आते है। मुन्नार की प्राकृतिक सुंदरता को देख कर हर कोई हैरान रह जाता है। 




कुमारकोम (Kumarakom)


कुमारकोम में पर्यटक मछली पकड़ने का आनंद सब से ज्यादा ले सकते है। कुमारकोम झील के द्वारा कई फिर से छोटे छोटे द्वीप बने है। जिन पर पर्यटक घूमने का आनंद लेते है। अल्लेप्पी से कुमारकोम तक हाउसबोट या क्रूज़ के द्वारा सफर भी किया जा सकता है। कुमारकोम बर्ड्स पार्क, जंगली बत्तख, कोयल, सारस प्रवासी पंछी पर्यटकों को देखने को मिलते है।



वायनाड (Wayanad)


केरला (Kerala) का वायनाड शहर मसाले, जंगल और होटल के लिए बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है। भारत में छुट्टियां परिवार के साथ यहाँ पर मनाने के लिए वायनाड बहुत अच्छा स्थान है। प्राकृतिक दृश्यों को देख कर हर किसी के मुंह से वाह क्या बात है खुद बा खुद ही निकल आता है। ताज़ा हवा पर्यटकों के शरीर को ताज़गी से भर देती है। 



कोच्ची (Kochi)


केरला (Kerala) का अति सुन्दर शहर कोच्ची है। यह बहुत ही विकसित शहर है। पर्यटकों के लिए यहाँ पर अच्छे से अच्छा होटल, परिवहन साधन, बड़े बड़े माल खरीदारी करने के लिए आराम से मिल जायेंगे। कोच्ची में करीब 600 साल पुराना व्यापारिक बंदरगाह भी है। इस शहर की सुंदरता और सफाई का हर कोई दीवाना है। 



वागामोन (Vagamon)


जिन लोगों को प्रकृति  से प्यार है और जंगली जीवन का आनंद लेना चाहते है तो उनके लिए वागामोन से बेहतर जगह कोई और नहीं हो सकती है। वागामोन जंगल को अंग्रेजों के द्वारा बनाया गया था। फिल्मों की शूटिंग यहाँ पर अकसर होती है। पर्यटकों के लिए ट्रैकिंग, क्लाइम्बिंग, पैरागलाइडिंग, सूर्यास्त, सूर्य उदय होते देखना मुख्य आकर्षण है। 



त्रिशूर (Thrissur)


केरला (Kerala) में त्रिशूर अपने सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है। दुनिया भर से लोग त्रिशूर में मनाए जाने वाले उत्सवों का आनंद लेने के लिए यहाँ पर आते है। प्राचीन मंदिर अपनी भव्यता से इस शहर की सुंदरता में चार चाँद लगाने का काम करते है। थामनपुर मकबरा, वाङ्कुमनाथन क्षत्रंम मंदिर, अथिरापल्ली फाल्स पर्यटकों की मुख्य पसंद है।



कोझिकोड (Kozhikode)


कोझिकोड का पुराना नाम कालीकट था। यहाँ केरला में व्यापार के लिए जाना जाता है। कोझिकोड से काली मिर्च, कॉफ़ी, रबर, लेमनग्रास आयल देश विदेशों में भेजा जाता है। सन 1498 में वास्कोडिगामा ने कोझिकोड समुद्र तट पर पहली बार भारत में प्रवेश किया था। यह बहुत ही सुन्दर शहर है। 




पेरियार नेशनल पार्क (Periyar National park)


किश्ती में बैठ कर जंगल घूमने का मजा ही कुछ और है। जंगल के कई जानवरों को पर्यटक बड़े ही आराम के साथ देख सकते है। पेरियार नेशनल पार्क टाइगर रिजर्व का सब बड़ा जंगल है। मसाले के बागानों के सैर के साथ, रात में जंगल को घूमने का आनंद ही कुछ और है। पेरियार नेशनल पार्क आना वाकई में बहुत ही शानदार अनुभव है। 




पूवर (Poovar)


तिरुवनंतपुरम से करीब 27 किलोमीटर की दूरी पर पूवर बहुत ही सुन्दर द्वीप स्थित है। पूवर में मछली पकड़ने का कार्य सब से ज्यादा होता है। देश विदेश से लोग यहाँ पर सूर्यास्त देखने के लिए आते है। अरब सागर और नेयार नदी के मध्य में पूवर स्थित है। पूवर में रेत का रंग सुनहरी है।



देवीकुलम (Devikulam) 


केरला (Kerala) के सब से ज्यादा लोकप्रिय हिल स्टेशन में देवीकुलम का नाम आता है। प्रकृति को प्यार करने वाले लोगो के लिए यह बहुत ही बढ़िया स्थान है। पहाड़ियाँ, झरने, चाय और मसालों के बाग़ान आने वाले पर्यटकों को बहुत ज्यादा लुभाते है। देवीकुलम में सीता देवी नाम की झील है, जिसके बारे में कहा जाता है कि इस में सीता देवी ने नहाया था। 


त्रिवेंद्रम (Trivandrum)


त्रिवेंद्रम में संस्कृति से प्यार करने वाले लोग बहुत बड़ी संख्या में आते है। यहाँ पर बहुत ही सुन्दर समुद्री तट, बड़े बड़े महल, म्यूजियम देखे को मिल जायेंगे। त्रिवेंद्रम बहुत ही सुन्दर और विकसित शहर है। यह शहर सात पहाड़ियों को मिलकर बनाया गया है। पहले यहाँ पर समुद्री खोजकर्ताओं को ही आने कि अनुमति थी, लेकिन बाद में पर्यटन के लिहाज़ से इसे खोला गया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया कमेंट बॉक्स में कोई भी स्पैम लिंक न डालें।

अहमदाबाद गुजरात भारत के पर्यटन स्थल के बारे में विस्तार सहित जानकारी

अहमदाबाद (Ahmedabad) गुजरात का बहुत ही सुन्दर शहर है। यह पहले गुजरात की राजधानी हुआ करता था। इसको कर्णावती नाम से भी पहचाना जाता है। साबरमती...