ads

गुजरात में घूमने वाली जगह (Gujarat mein ghumane wali jagah)



गुजरात (Gujrat) भारत देश का बहुत ही सुन्दर और आधुनिक राज्यों में से एक है। अपनी सांस्कृतिक विरासत के लिए दुनिया भर में मशहूर है। गुजरात पर्यटकों के घूमने के लिए बहुत ही बढ़िया स्थान है। "दा लैंड ऑफ़ लीजेंड्स" के नाम से भी इस राज्य को जाना जाता है। आइये आज हम बात करते है गुजरात के पर्यटन स्थलों (Gujarat mein ghumane wali jagah) के बारे में।



कंकारिआ झील (Kankaria Lake)

गुजरात (Gujrat) में परिवार के साथ घूमने के लिए सब से बढ़िया स्थान में कंकारिया झील का नाम आता है। कंकारिया झील का निर्माण सन 1451 में सुलतान क़ुतुब उद दीन ने करवाया था। यह झील अहमदाबाद शहर में स्थित है। इस झील के साथ कंकारिया चिड़िया घर भी है, जो करीब 21 एकड़ में फैला हुआ है। इस चिड़िया घर में पर्यटकों को देखने के लिए अनाकोंडा, बाघ, हाथी, खरगोश जैसे कई जानवर देखने को मिल जायेंगे।



रण ऑफ़ कछ (Rann of Kutch)

रण ऑफ़ कछ दुनिया का सब से बड़ा नमक का रेगिस्तान है। यह बेहद सुन्दर जगह है घूमने के लिए। यहाँ पर प्राकृतिक नमक कैसे बनता है, उसके बारे में बहुत बढ़िया ढंग से जानकारी मिलती है। रण ऑफ़ कछ का कुछ हिस्सा पाकिस्तान के पास में है। यहाँ पर आना वाकई में हर पर्यटक के लिए बहुत ही शानदार समय होता है।


सोमनाथ (Somnath)

गुजरात (Gujrat) का सोमनाथ शहर धार्मिक स्थलों को लेकर पुरे भारत देश में प्रसिद्ध है। धार्मिक स्थलों का पौराणिक कथाओं से सम्बन्ध उजागर होता है। कामनाथ महादेव मंदिर, सोमनाथ मंदिर, गीता मंदिर अपनी भव्यता के लिए प्रसिद्ध है। पर्यटकों के लिए मंदिर के अलावा यहाँ पर समुद्री तट, म्यूजियम के साथ यहाँ के बाजार देखने वाले है।



गिर नेशनल पार्क (Gir national park)

गिर नेशनल पार्क जंगली जानवरों के लिए जाना जाता है। तलाला गीर स्थान के बिल्कुल पास में ही गिर नेशनल पार्क स्थित है। सन 1965 में गिर नेशनल पार्क को बनाया गया था। यहाँ पर एशिया के शेरों को बचाने का कार्य किया जाता है। इस पार्क में और भी कई जंगली जीव देखने को मिलते है। पर्यटकों के लिए बहुत बढ़िया स्थान है घूमने के लिए।



लक्ष्मी विला पैलेस (Lakshmi villa Palace)

शाही महल लक्ष्मी विला पैलेस लगभग 700 एकड़ में फैला हुआ है। लक्ष्मी विला पैलेस महाराजा सयाजीराव गायकवाड़ का था। इस महल के अंदर बहुत ही सुन्दर बगीचे है। पर्यटकों को इस महल में बंदर और मोर बड़े आराम से देखने को मिल जायेंगे। लक्ष्मी विला पैलेस में 10 हॉल गोल्फ कोर्स, एक चिड़िया घर भी शामिल है। शाही महल का निर्माण 1890 शुरू हुआ और 1902 में पूरा हुआ था।



खिजडिया पक्षी पार्क (Khijiadiya bird sanctuary)

खिजडिया पक्षी पार्क 605 हेक्टेअर में फैला हुआ है। इस पार्क में करीब 300 से अधिक प्रकार की प्रजातियों के पक्षी पाए जाते है। खिजडिया पक्षी पार्क में मीठे पानी की झीलें, नमकीन पानी बहुत बड़ी तादात में उपलब्ध है, जिसके फलस्वरूप मैंग्रोव पक्षी बड़ी संख्या में यहाँ पर आते है। जिन पर्यटकों को पक्षियों में रूचि है, उनके लिए यह स्थान बहुत ही बढ़िया है।



पोरबंदर समुद्री तट (Porbander beach)

चौपाटी के नाम से पोरबंदर समुद्री तट को जाना जाता है। लोग यहाँ पर अक्सर अपने अपने परिवार के साथ घूमने के लिए आते है। पर्यटकों को पोरबंदर समुद्री तट पर आकर अत्यधिक शांति मिलती है। बच्चे समुद्री तट पर स्केटिंग का लुफ्त उठा सकते है। पोरबंदर समुद्री तट पर हुजूर पैलेस स्थित है, जी इस समुद्री तट की खूबसूरती में चार चाँद लगा रहा है। 


मरीन नेशनल पार्क (Marine national park)

मरीन नेशनल पार्क 458 वर्ग किलोमीटर में फैला वन्यजीव पार्क है। इस वन्यजीव पार्क में कछुआ, जंगली बिल्ली, राजहंस और कई प्रकार के जीव देखने को मिलते है। मरीन नेशनल पार्क में लगभग 30 प्रकार के प्रवासी पक्षी पाए जाते है। यह वाकई में बहुत अच्छा अनुभव है।



जूनागढ़ (Junagadh)

जूनागढ़ ऐतिहासिक स्मारकों का गढ़ कहा जाता है। विश्व प्रसिद्ध गिरनार की पहाड़ियाँ जूनागढ़ में ही स्थित है। यहाँ पर पर्यटकों के लिए मक्का बाग़, वन्यजीव म्यूजियम, गिरनार हिल्स देखने वाली जगह है। यह जगह बहुत ही सुन्दर है।



सापुतारा हिल स्टेशन (Saputara hill station)

सापुतारा एक छोटा सा गुजरात के डांग जिले में हिल स्टेशन स्थित है। सापुतारा का अर्थ "सापों का निवाला" होता है। यहाँ रहने वाले लोग अधिकतर आदिवासी जाति संबंध रखते है और सापों की पूजा करते है। पर्यटकों को यहाँ आकर शांति नसीब होती है। हरे भरे जंगल, झरने, झीलें, पहाड़ी सापुतारा हिल स्टेशन की खूबसूरती को चार चाँद लगते है।



दांता अम्बाजी (Danta ambaji)

हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार दांता अम्बाजी स्थान को मानव जाति के उत्पति का स्थान माना जाता है। दांता अम्बाजी में बहुत सारे ऐतिहासिक मंदिर है। जहाँ पर जा कर तीर्थ यात्रियों को मन की शांति प्राप्त होती है। दांता अम्बाजी में गब्बर हिल्स और कैलाश हिल्स बहुत ही सुन्दर स्थान है घूमने के लिए। पर्यटकों के लिए यहाँ से सूर्यास्त देखना बहुत ही अच्छा अनुभव होता है।



पाटन (Patan) 

यूनेस्को ने पाटन के रानी के वाव को विश्व धरोहर में शामिल किया है। कुछ इतिहासकारो का कहना है कि मध्ययुगीन काल में लगभग 650 सालों तक गुजरात की राजधानी पाटन रहा है। पर्यटकों के लिए पाटन में हिन्दू मंदिर, मस्जिद के साथ जैन मंदिर भी आकर्षण का केंद्र है।


वड़ोदरा (Vadodara)

गुजरात (Gujrat) का वड़ोदरा शहर अपनी वास्तुकला के लिए सारे भारत में प्रसिद्ध है। वड़ोदरा शहर में नवरात्री का त्यौहार बड़ी धाम से मनाया जाता है। दुनिया के कोने कोने से लोग यहाँ पर नवरात्री का त्यौहार मनाने के लिए यहाँ पर आते है। वड़ोदरा में पर्यटकों के देखने के लिए बहुत बड़ी संख्या में ऐतिहासिक स्मारक है।



गाँधी नगर (Gandhi Nagar)

गुजरात (Gujrat) की राजधानी का नाम गांधीनगर है। गाँधी नगर सब से ज्यादा प्रसिद्ध अक्षर धाम मंदिर है। अक्षर धाम मंदिर स्वामी नारायण को समर्पित है। पर्यटकों के लिए हनुमान मंदिर, चिल्ड्रन पार्क, खूबसूरत बाज़ार आकर्षण का केंद्र है। गाँधी नगर का विरासत से भरा और शांतिप्रिए माहौल हर किसी को अच्छा लगता है।

गुजराती व्यंजन (Gujrati food)

गुजराती व्यंजन में सब से ज्यादा ढोकला, घेवर, फाफड़ा, कचोरी, खांडवी, हांडवो, देबरा, माल पुआ, अचार, पापड़, दाल, कढ़ी मशहूर है।

मुझे उम्मीद है की आप को मेरा यह लेख पसंद आया होगा। कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में ज़रूर दे। धन्यवाद।

Maninder singh "mani"

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कृपया कमेंट बॉक्स में कोई भी स्पैम लिंक न डालें।