अद्भुत वास्तुकला और गोवा के बीच ज़रूर देखे (Wonderful architecture and Goa beach must see)




भारत के सब से खूबसूरत राज्यों में से एक गोवा (Goa) है। गोवा भारतीय लोगों के साथ विदेशी पर्यटक भी बहुत ज्यादा घूमना पसंद करते है। गोवा में सैलानियों के आने का मुख्य कारण यहाँ अद्भुत वास्तुकला (Wonderful architecture), समुद्री तट (Beach) और चीज़ों का सस्ता होना भी है। वैसे गोवा अपनी खूबसूरती के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। यहाँ पर बहुत सारे ऐसे स्थान है जिनको एक बार देखने से किसी का भी मन नहीं भरता है। आइए आज बात करते है, गोवा में घूमने वाली जगहों (Tourist places) के बारे में।



कंडोलिम समुद्र तट (Candolim Beach)


कंडोलिम समुद्र तट गोवा का मशहूर समुद्र तट है। यह गोवा की राजधानी से करीब 14 किलोमीटर दूर उत्तर में स्थित अरब सागर की लंबी तट रेखा का हिस्सा है। इस तट रेखा की सीमा अगोडा (Agodha) किले से लेकर चपोरा बीच (Chapora beach) पर जा कर खत्म होती है। यह समुद्र तट बहुत ही मन को लुभाने वाला है। कंडोलिम के मशहूर होने की सब से बड़ी वजह अब्बा फारिया का जन्म स्थान का होना। अब्बा फरिया स्वतंत्रता सेनानी होने के साथ, सम्मोहन विधा के पिता कहलाये जाते है।




मीरामार समुद्र तट (Miramar Beach)


अरब सागर और मंडोवी नदी के मिलने वाले स्थान से लगभग 1 किलोमीटर आगे जा कर मीरामार समुद्र तट स्थित है। यह पणजी से सिर्फ 3 किलोमीटर दूर डोना पाउला की तरफ जाते हुए स्थित है। इस समुद्र तट को गैस्पर डायानाम से भी जाना जाता है। यह समुद्र तट गोवा में खाड़ी से शुरू हो कर एम्राल्ड कोस्ट पार्कवे पर जा कर खत्म होता है। इस तट पर खजूर के बहुत सारे पेड़ मिल जायेंगे। मीरामीर का पुर्तगाल भाषा में अर्थ होता है कि "समुद्र को देखना"।




मजोरदा समुद्र तट (Majorda Beach)


बोगमोला के दक्षिणी भाग में मजोरदा समुद्र तट स्थित है। गोवा के सभी सुंदर तटों में से यह एक तट है। इस तट की डाबोलिम हवाई अड्डे से 18 किलोमीटर की दूरी है। मजोरदा समुद्र तट सड़क मार्ग के द्वारा मडगांव से भी जुड़ा हुआ है। मडगांव जाने के लिए आप को टैक्सी, ऑटो रिक्शा, बस आसानी से मिल जाते है। यह तट बहुत ही खूबसूरत तट है। यहाँ पर हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक आते है।





मोबोर समुद्र तट (Mobor Beach)


आप अगर काम बजट में रोमांचक खेल खेलना चाहते हो तो, मोबोर समुद्र तट गोवा ज़रूर आए। यह तट पर्यटकों की पहली पसंद है। यहाँ पर आप आ कर वाॅटर स्कीइंग, वाॅटर सर्फिंग, जेट स्की, बनाना और बम्प राइड और पैरासिलिंग का लुत्फ उठा सकते है। यहाँ पर घूमने के लिए आप सितम्बर से ले कर मार्च के बीच का समय चुने। इस समय मौसम बहुत ज्यादा लुभावना होता है। वैसे आप सारे साल में जब भी यहाँ पर आ सकते है।




कोल्वा समुद्र (Colva Beach)


मडगाव से करीब 6 किलोमीटर दूर पश्चिम में कोल्वा समुद्र तट स्थित है। कोल्वा समुद्र तट सबसे पुराना, बड़ा होने के साथ, दक्षिण गोवा का सबसे खूबसूरत समुद्र तट है। इस तट के किनारों पर नारियल और खजूर के पेड़ हैं। यह नारियल के पेड़ उत्तर में बोगमालो से लेकर दक्षिण में काबो-डि-रामा क्षेत्र तक फैले हैं। जब पहली बार यहाँ पर व्यापारी निवेशक गोवा में आए तो वह इसी क्षेत्र में रहे। कोल्वा समुद्र तट उस समय से ही अमीर लोगों के रहने की जगह था। आज भी उस समय की बनी आलीशान इमारतें, उस समय की आलीशान जिंदगी की याद दिलाते है।




अंजुना समुद्र तट (Anjuna Beach)


बर्देज़ तालुका में स्थित अंजुना समुद्र तट है। यह अरब सागर के पश्चिमी तट पर लगभग 30 किलोमीटर में तक फैली लंबी तट रेखा का एक भाग है। बर्देज़ तालुका पणजी से करीब 18 किलोमीटर दूर है। इस तट के साथ अंजना गांव है इस गांव का क्षेत्रफल 5 वर्ग मील है। अरब सागर और पहाड़ी के बीच समुद्र तट की तरफ बसा है। यह समुद्र तट अपनी सुंदरता, खजूर के पेड़ो के लिए और सफेद रेत के लिए प्रसिद्ध है।




वर्का समुद्र तट (Varca Beach) 


वर्का समुद्र तट गोवा का बहुत ही सुन्दर तट है। यह तट बिनोलिम से महज 2 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस तट पर आप को बड़ी बड़ी संख्या में किश्तियां देखने को मिलेंगी। यह किश्तियां सहर के मछुआरों की होती है। वर्का समुद्र तट का पानी बहुत साफ़ है। यहाँ पर विदेशी पर्यटक रुकना बहुत ज्यादा पसंद करते है।




सिंक्वेरियम समुद्र तट (Sinkveriyam Beach)


सिंक्वेरियम समुद्र तट खूबसूरत होने के साथ साथ बहुत ही शांत समुंदरी तट है। यह गोवा की राजधानी पणजी से महज 13 किलोमीटर दूर है। यहाँ पर हर समय बहुत ज्यादा लोग होते है। यह तट तैरने के लिए बहुत ही अच्छा है। पुर्तग़ालिओं द्वारा बनाया गया अगोडा किला (Agoda fort) भी यही पर है। इस किले का निर्माण 17 वी शताब्दी में पुर्तग़ालिओं द्वारा शुरू करवाया गया था। इस किले का निर्माण विदेशी हमलों से बचाव के लिए किया गया था।




वागातोर बीच (Vagator Beach)


वागातोर बीच पणजी से 22 किलोमीटर की दूरी पर है। यहाँ पर भीड़ बहुत काम होती है। इस बीच पर इजराइली लोग आप को ज्यादा मिलेंगे। यहाँ पर रेत सफ़ेद रंग की, खजूर के पेड़, नारियल, काली लावा चट्टानें है। इस बीच पर 500 साल पुराना पुर्तग़ालिओं का बनाया किला है। यहाँ पर रहने के लिए कमरे काम होने की वजह से पहले ही बुक होते है। इसलिए आने से पहले अपने रहने का इंतज़ाम कर के आए। वागातोर बीच शांत होने के साथ, अभी पूरी तरह से विकसित नहीं हुआ है। जिस  कारण यहाँ पर सैलानियों की संख्या बहुत कम होती है।




इमेक्यूलेट कंसेप्शन चर्च और रिस मगोस फोर्ट (Immaculate Conception Church and Ris Magos Fort)


गोवा में सब से पहली चर्च का नाम इमेक्यूलेट कंसेप्शन गिरजा घर और रिस मगोस फोर्ट अवर लेडी ऑफ़ इमेक्यूलेट कंसेप्शन गिरजा घर था। इस को 1541 में बनाया गया था उसके बाद यह बिल्कुल तबाह हो गया था। इस चर्च को 1619 में फिर से बनाया गया था। उस समय यहाँ की आबादी बिल्कुल ना के बराबर थी। यह बहुत ही सुन्दर और आकर्षक गिरजा घर है। गोवा आने वाले सैलानी, इसे ज़रूर देखे।




मोरजिम बीच (Morjim Beach)


मोरजिम तट को टर्टल तट के नाम से भी जाना जाता है। यह उत्तर गोवा के परनेम शहर में स्थित है। इस स्थान पर आप लुप्त हो रहे ओलिव रिडले कछुए को आसानी से देख सकते है।  मोरजिम तट पर सैलानियों  को छोटे छोटे कछुओं के साथ साथ, आप को केकड़े भी देखने को मिलेंगे। यहाँ पर काइट सर्फिंग भी कर सकते है। यहाँ पर आप की यात्रा का अनुभव आप को जीवन भर याद रहेगा।




बेटलबटीम बीच (Betlabteam Beach)


कुछ लोगों का कहना है कि सूर्यास्त देखना भाग्यशाली लोगों के ही भाग्य में होता है। जिन सैलानीयों सूर्यास्त देखना अच्छा लगता है, तो बेटलबटीम तट गोवा में आ कर सूर्यास्त देखे। यह वाकई में बहुत ही ज्यादा शानदार नज़ारा होता है। इस बीच को "सनसेट बीच ऑफ़ गोवा" भी कहा जाता है। इस बीच पर आ कर आप के दिल को बहुत ज्यादा शांति महसूस होती है।




बण्डेला वन्यजीव जंगल (Bondla Wildlife Sanctuary)


बण्डेला वन्यजीव जंगल सिर्फ 8 किलोमीटर के हिस्से में फैला हुआ है। यह बहुत ज्यादा घना जंगल है। इस में कुछ ऐसी वनस्पति भी है, जो सारा साल रहती है। बण्डेला वन्यजीव जंगल में आप को एक छोटा सा चिड़िया घर, डियर सफारी पार्क, बाॅटनिकल गार्डन, गुलाब गार्डन, नेचर एजुकेशन सेंटर के साथ ही आप को ईको-टूरिज्म काॅटेज भी देखने को मिलेगा। यह बच्चों को दिखने के लिए बहुत बढ़िया जगह है।




बिचोलिम शहर (Bicholim City)


बिचोलिम शहर में जा कर आप को पौराणिक कथाओं को समझने का मौका मिलेगा। यहाँ पर आप को अर्वलेम केव्स या पांडव गुफाएं देखने को जरूर मिलेंगी। इन प्राचीन गुफाओं को चट्टानें काट कर बनाया गया है। इस शहर की वस्तु कला आप जिंदगी भर नहीं भूल सकते है।

.



अर्वलेम झरना (Arvalem Waterfall)


बहुत ऊंची पहाड़ी से गिरते हुए पानी को देखना कई पर्यटकों को अच्छा लगता है। इस झरने की ऊँचाई करीब 70 मीटर है। यह झरना बिचोलिम शहर से करीब  9 किलोमीटर दूर है। यह नज़र देखे में बहुत ज्यादा शानदार दिखाई देता है।




चर्च (Church)


गोवा की वास्तुकला बहुत ज्यादा मशहूर है। गोवा की वास्तु कला देखनी हो तो, यहाँ के गिरजा घर में  जाए। यह चर्च बहुत ज्यादा सुन्दर है। कुछ गिरजा घर के नाम इस प्रकार सेंट कैथेड्रल चर्च, सेंट फ्रांसिस आॅफ असीसी, बेसिलिका आॅफ बाॅम जीसस, सें ऑगस्टीन चर्च है। गोवा में गिरजा घर बहुत ज्यादा है, लेकिन पर्यटक इस चर्च को देखना सब से ज्यादा पसंद करते है।

इन सब स्थानों के अलावा गोवा में बहुत से मंदिर और समुंदरी तट है देखने के लिए। गोवा में आप को अपनी जेब के हिसाब से, होटल, रेस्टोरेंट भी मिल जायेंगे। जब भी गोवा आप जाए पहले आप अपने होटल की बुकिंग ज़रूर कर ले क्यों की गोवा में कई जगह होटलों की संख्या बहुत कम है। ऐसे में मौके पर आप को कमरे नहीं मिलेंगे, अगर मिले तो महंगे होंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

कृपया कमेंट बॉक्स में कोई भी स्पैम लिंक न डालें।