ads

महाराष्ट्र में पर्यटन स्थल के बारे में जानकारी ( Maharashtra tourist place information)


भारत (India) देश का एक प्रमुख राज्य महाराष्ट्र (Maharashtra) है। यहाँ पर्यटकों के देखने के लिए बहुत सारे स्थान है। इन स्थानों पर जा कर पर्यटक  (Tourist) वापिस जाना नहीं चाहते है। आइए हम बात करते है, महाराष्ट्र के इन खूबसूरत स्थानों के बारे में विस्तार से।

अजंता और एलोरा की गुफाएं  

महाराष्ट्र (Maharashtra) के औरंगाबाद में अजंता और एलोरा की गुफाएं (Ajanta and elora cave) स्थित है। यहाँ चट्टान काटकर बनाई गई गुफाएं है। यह पूरे भारत (India) में सब से ज्यादा प्राचीन गुफाएं है। इन गुफाओं में हिन्दू, जैन, बौद्ध धर्म से जुड़ी मूर्तियां और चित्र बनाए गए है। यह देखने में बहुत ज्यादा सुन्दर है।  दुनिया के कोने कोने से लोग यहाँ पर इन गुफाओं को देखने के लिए आते है। अजंता और एलोरा की गुफाओं (Ajanta and elora cave) को यूनेस्को ने विश्व धरोहर का नाम दिया है।


हनीमून पैकेज लेने के लिए यहाँ पर क्लिक करें 

गेट वे ऑफ़ इंडिया (Gate way of India)

गेट वे ऑफ़ इंडिया (Gate way of India) को बनाने का कार्य 1914 में शुरू हुआ था और 1924 तक बन कर तैयार हो गया था। इस गेट को इसलिए बनाया गया था क्योंकि अंग्रेज पहले बार यही से भारत (India) देश में दाखिल हुए थे। यह गेट 26 मीटर ऊंचा बना है। इसकी उलट दिशा में होटल तेज़ स्थित है। यहाँ पर हर साल बहुत बड़ी संख्या में लोग घूमने के लिए आते है। यह बहुत ही शानदार है।

शिरडी स्थल (Shirdi place)

शिरडी स्थल (Shirdi place) साई बाबा का दरबार है। जहाँ पर हर धर्म के लोग जाना पसंद करते है। यह स्थल बहुत ही शानदार बनाया गया है। इस स्थल पर आने आने लोगो के मन की इच्छा ज़रूर पूरी होती है। आप अगर महाराष्ट्र (Maharashtra) में आते है तो, शिरडी स्थल पर ज़रूर आए।

पंचगनी हिल स्टेशन (Panchgani hil station)

पंचगनी (Panchgani hil station) बहुत ही सुन्दर हिल स्टेशन है। यह समुद्र से 1334 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। अंग्रेजों के शासन काल में, अँग्रेज़ इसे रिसोर्ट की तरह प्रयोग करते थे। यहाँ पर मौसम बहुत ही ठंडा और सुहावना रहता है। सहादरी की पांच पहाड़ियों के बीच बने होने के कारण इस का नाम पंचगनी पड़ा। यहाँ से आप कमल गढ़ किला और धाम डैम के अद्भुत नज़ारों का आनंद ले सकते है।



महाबलेश्वर (Mahabaleshwar)

महराष्ट्र राज्य के सतारा जिले के पश्चिमी घाट पर एक पहाड़ी शहर महाबलेश्वर है। यह शहर अपनी स्ट्रॉबेरी और नदियों, झरनों और पर्वत की चोटियों के लिए प्रसिद्ध है। यहाँ के स्ट्रॉबेर्री फार्म दूर दूर तक मशहूर है। हर सप्ताह के अंत में बहुत ज्यादा भीड़ होती है। यहाँ से पर्यटकों का जाने को मन नहीं करता है। महाबलेश्वर में विदेशी पर्यटक भी बहुत ज्यादा आता है।

हिल स्टेशन लवासा (Hil station lawasa)

बॉम्बे का एक प्रमुख पर्यटन स्थल लवासा (lawasa) है। यह जगह इटली के एक शहर के हिसाब से बन जगह है। यहाँ पर आप को बड़े बड़े होटल, कॉलेज, रेस्टोरेंट आदि आसानी से मिल जायेंगे। यहाँ बहुत ही सुन्दर स्थान है। समुद्र के किनारे पर बनी इमारतों से बाहरी दृश्य पर्यटकों को अपने तरफ खींच लेते है। लवासा 25000 एकड़ में फैला हुआ है।

 भारत के ऐतिहासिक किले कौन से है? यहाँ पर क्लिक करे 


लोनावाला (Lonawala)

महाराष्ट्र का एक प्रमुख पर्यटन स्थल लोनावाला (Lonawala) है। यह स्थल पुणे और मुंबई के पास में ही स्थित है। यहाँ आप को झील, नदी और पहाड़ देखने को मिलेंगे। यह पर्यटकों को कमाल का अनुभव प्रदान करता है। लोनावला सर्हदारी पहाड़ियों का ही एक हिस्सा है। जब हम लोनावला की तरफ आते है तो रास्ते में खंडाला और राजमाची आते है। यह भी बहुत ही सूंदर स्थान है। आप के पास अगर समय हो तो, यहाँ पर ज़रूर जाए।

अलीबाग (Alibagh)

अलीबाग (Alibagh) एक छोटा सा शहर है। बॉम्बे से करीब 110 किलोमीटर की दूरी पर समुद्री तट पर स्थित है। शहर को मिनी-गोवा के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ पर आप को पुराने मंदिर, किले, कई समुद्री तट देखने को मिलेंगे। सप्ताहांत में यहाँ पर छुट्टियां मनाना बहुत ही बढ़िया रहेगा। यह एक व्यापारिक शहर है। यह शहर चाहे छोटा है, लेकिन कभी भी इसने पर्यटकों को नाराज़ नहीं किया।



खंडाला (Khandala)

खंडाला (Khandala) सर्हाद्री पहाड़ियों की ऊपरी सतह पर स्थित है। यहाँ पर आप को सुन्दर पहाड़, घाटियाँ, झीलें, झरने, पहाड़ियाँ आप को देखने मिलेंगे। यह प्रकर्ति प्रेमियों के लिए बहुत ही मनभावन स्थान है। यह स्थान बहुत ही शांत है। आप को यहाँ पर अच्छा लगेगा।जब मानसून का समय होता हैं, उस समय देखने वाले दृश्य होते है।

भंडाराड़ा (Bhandarada)

भंडाराड़ा (Bhandarada) सह्याद्रि पर्वतमाला में स्थित हिल स्टेशन है। यह बॉम्बे (Bomaby) से करीब 117 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। सड़क माध्यम के द्वारा आप यहाँ पर आसानी से पहुंच सकते है। भण्डाराडा की खूबसूरती हर किसी का दिल मोह लेती है। यहाँ पर मुख्य आकर्षण झरने है। अगर आप बॉम्बे के करीब रहते है, तो आप यहाँ पर आ कर पिकनिक मना सकते है।

ताडोबा नेशनल पार्क (Taboda national park )

ताडोबा नेशनल पार्क (Taboda national park) महाराष्ट्र में स्थित है। यहाँ पर आप को दुर्लभ वनस्पतियों और जीवों की किस्में आप को देखने को मिल जाएँगी। यहाँ पर सब से ज्यादा आप को टाइगर देखने को मिलेंगे। यह महाराष्ट्र के चन्दरपुर जिले में स्थित है। ताडोबा नेशनल पार्क आप को रोमांच से भर देगा। आप अपनी छुट्टियाँ को यहाँ बहुत अच्छे से काट सकते है।यह वाकई में बहुत ही शानदार जगह है।

कोल्हापुर शहर (Kohalapur city)

मुंबई (Mumbai) के दक्षिण-पश्चिम में पंचगंगा नदी के तट पर कोल्हापुर शहर स्थित है। इस शहर का नाम पौराणिक कथाओं से लिया गया है। कहते है कि कोल्हापुर (Kohalapur) नाम के दानव को देवी महालक्ष्मी ने मारा था। यहाँ देवी महालक्ष्मी का बहुत सुन्दर मंदिर भी है। यह शहर चप्पल, आभूषण और लज़ीज खानों के लिए बहुत ज्यादा मशहूर है। यहाँ आप ख़रीददारी बहुत सस्ते दामों पर कर सकते है।

रायगढ़ किला (Raigadh fort)

रायगढ़ के किले (Raigadh fort) में मराठा शासक छत्रपति शिवाजी महाराज की समाधी है। यह किला महाराष्ट्र के जिले रायगढ़ में स्थित है। यह बहुत ही उन्नत ज़िला है। रायगढ़ को शिवाजी ने 1656 में जीता था। जिसके बाद उन्होंने अपना सारा काम रायगढ़ में ही करना शुरू कर कर दिया। इस किले के आस पास का क्षेत्र बहुत ही सुन्दर और हरियाली से भरा है। जो पर्यटकों को आसानी से अपनी और खींचता है।



सूर्यमल (Surymal)

ठाणे में स्थित एक सुन्दर पहाड़ी छोटी है। कुछ लोग पहाड़ों को जाने का शौक़ रखते है, पर ऊंचाई से डरते है। यह उन लोगो के बहुत ही बढ़िया स्थान है। इस पहाड़ी से आप दूर दूर तक फैले पहाड़ों को आसानी से देख सकते है। यहाँ पर आप अपने बच्चों के साथ आसानी से आ सकते है। सूर्यमल (surymal) पहाड़ी की सुंदरता आप के दिल को आसानी से छू लेगी।

फॅमिली टूर पैकज लेने के लिए यहाँ पर क्लिक करे 

यात्रा और भोजन

आप को महाराष्ट्र (Maharashtra) का मौसम सारा साल बढ़िया ही मिलेगा। यह राज्य समुद्र के बिलकुल पास में है। मानसून के मौसम में इस राज्य के कुछ शहरों में आप को तबाही भी देखने को मिल सकती है। इस मानसून के समय में कुछ ऐसे शहर भी हैं, जिनकी खूबसूरती उभर कर सामने आती है। आप वैसे मानसून के मौसम में यहाँ पर आने से बचे।

यहाँ पर आप को हर प्रकार का भोजन आसानी से मिल जायेगा। बंगाली मिठाई के साथ आप को रेगिस्तानी स्वाद भी आप को खाने को मिलेगा। यहाँ का मशहूर खाना वडा पाव, इडली, डोसा है। रोजमर्रा का भोजन रोटी, चावल, दाल आप को आसानी से खाने को मिल जायेगा।

मुझे उम्मीद है आप को मेरा यह लेख पसंद आएगा। कृपया अपने विचार कमेंट बॉक्स में ज़रूर दे। धन्यवाद।


Maninder Singh "Mani"

1 टिप्पणी:

कृपया कमेंट बॉक्स में कोई भी स्पैम लिंक न डालें।