हरमंदिर साहिब सिखों का धार्मिक स्थल (Golden temple Sikh worship place)




सिखों का सब से पवित्र स्थान दरबार साहिब अमृतसर पंजाब (Punjab) में स्थित है। इस गुरु घर को गोल्डन टेम्पल (Golden temple), हरमंदिर साहिब के नाम से जाना जाता है। यह गुरु घर सरोवर के बिलकुल बीचों बीच बना हुआ है। इस गुरुदवारा साहिब में चार दरवाज़े है। यह चार दरवाज़े दर्शाते है कि यहाँ पर चारों दिशाओं के लोग आ सकते है बिना किसी भेद भाव के।






हर साल यहाँ पर लाखों लोग आते है, कुछ लोग मनोकामना मांगते है तो कुछ लोग मनोकामना के पूरा होने पर सजदा करने आते है। इस गुरुदुवारे के चारों तरफ सोने की परत चढ़ी हुई है, इसलिए इस गुरु घर का नाम गोल्डन टेम्पल (Golden temple) पड़ा। यहाँ पर दुनिया की सबसे बड़ी रसोई (Largest kitchen) है, इस गुरु घर में करीब रोज़ के 40000 लोग लंगर ग्रहण करते है। इस गुरु घर में हर समय कीर्तन होता रहता है। इस गुरु घर के बाहर बहुत सारी दुकानें है, जहाँ से आप को सिख इतिहास से संबंधित किताबें, और सामान मिल जायेगा।






इस गुरु घर में हर समय भक्तों की बहुत भीड़ रहती है। यहाँ पर आकर सुख की अनुभूति होती है।
यहाँ पर आने वाले लोगों के लिए गुरु घर में ही कमरों की, धर्मशाला की व्यवस्था है।





अमृतसर कैसे जाए (How reach):-



यहाँ एयरपोर्ट भी है, जिस से आप हवाई जहाज़ से भी जा सकते है। यहाँ से दरबार साहिब आप टैक्सी, थ्री व्हीलर से सिर्फ 15 मिनट में जा सकते है।

अमृतसर आने के लिए आप ट्रेन से भी आ सकते है। कई ट्रेनों का यहाँ पर आख़िरी स्टेशन होता है।

आप यहाँ पर सड़क मार्ग से भी आ सकते है। गुरु घर के पास में बहुत बड़ी कार पार्किंग (Parking) की व्यवस्था है। इस लिए आप को कोई भी परेशानी बिलकुल भी नहीं होगी।



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

कृपया कमेंट बॉक्स में कोई भी स्पैम लिंक न डालें।