हाजी अली दरगाह के बारे में जानिए विस्तार सहित


भारत के महाराष्ट्र (Maharashtra) राज्य के बॉम्बे (Bombay) शहर के वर्ली समुद्री किनारे के पास में हाजी अली दरगाह (Haji Ali Dargah) है। इस दरगाह पर मुसलिम धर्म के लोगों की बहुत ज्यादा आस्था है। इस मस्जिद को 1431 में सैय्यद पीर हाजी अली शाह बुखारी (Sayyad Peer haji Ali Shah Bukhari) की याद में बनाया गया था। सैय्यद पीर हाजी अली शाह बुखारी उज्बेकिस्तान देश के एक बहुत बड़े व्यापारी थे। कुछ विद्वानों के अनुसार मक्का की यात्रा करने से पहले उन्होंने सांसारिक मोह माया का त्याग कर दिया था। इस दरगाह में कई दूसरे धर्मों के लोग भी आते है। 



हाजी अली दरगाह में दुनिया के कोने से लोग नतमस्तक होने के लिए आते है। पुरुषों, महिलाओं और बच्चों के लिए अलग अलग प्रार्थना स्थल बने हुए है। इस मस्जिद की वास्तुकला को देखकर हर कोई आनंदित होता है। यहाँ पर आने लोग अपनी मनोकामना पूर्ण होने के लिए या होने पर चादर चढ़ाने के जरूर आते है। आइए आज हम बात करते है, हाजी अली दरगाह (Haji Ali Dargah) के बारे में जानकारी (Information) विस्तार सहित। 



दरगाह का इतिहास (The Dargah History)


कुछ विद्वानों के अनुसार सैय्यद पीर हाजी अली को एक महिला सड़क पर खड़ी रोते हुए मिली। जिसके हाथ में एक खली बर्तन था। हाजी अली जी ने उस महिला से बड़ी विनम्रता से पूछा "आप क्यों रो रही हो?" इस पर महिला का जवाब आया कि "मेरे बर्तन में जो भी तेल था, वह धरती पर गिर गया है। घर जाने पर मेरा पति मुझे पिटेगा" यह सुनकर हाजी अली ने धरती को निचोड़ कर सारा तेल उसके बर्तन में डाल दिया। महिला बड़ी खुशी के साथ अपने घर की तरफ चली गयी। 


यह भी पढ़े :- महाराष्ट्र में पर्यटन स्थल के बारे में जानकारी


सैय्यद पीर जी को बाद में सोचा कि "उन्होंने धरती को निचोड़ कर घायल कर दिया है। यह बहुत बड़ा उनसे गुनाह हो गया है। इसके पछतावे के लिए वह भारत में आ गए। जहाँ पर उन्होंने इस्लाम धर्म का पूरे मन के साथ प्रचार किया। लोग उनके प्रवचन सुनकर बहुत बड़ी संख्या में अनुयायी बनते गए। देखते देखते उनकी प्रसिद्धि भारत के कोने कोने में फ़ैल गयी। 


कहा जाता है कि हाजी पीर जी ने अपने सेवादारों को आदेश दिया था कि उनके शरीर छोड़ने के बाद, शरीर को दफ़नाने के बजाय समुद्र में बहा दिया जाए। उनके शरीर को ताबूत में बंद कर कर के सागर में बहा दिया गया था। जिसके बाद वह ताबूत मुंबई के तट पर पहुंच गया। उनके अनुयायियों ने उसके बाद इस स्थान पर उनको समर्पित एक मस्जिद का निर्माण करवाया।  



बनावट (Structure)


इंडो-मुस्लिम वास्तुकला का बहुत ही सुन्दर चित्रण को सैय्यद पीर हाजी अली दरगाह दर्शाती है। सफ़ेद रंग के संगमरमर पत्थर से बनी बहुत ही सुन्दर मस्जिद है। इसकी ऊँचाई 85 फुट और इसका क्षेत्रफल 4500 वर्ग मीटर है। यहाँ पर पीर हाजी जी का मकबरा मस्जिद के बिलकुल बीच में स्थित है। मकबरे को लाल और हरे रंग के कपड़े से ढका हुआ है। इस स्थान को चदर कहा जाता है। इसमें एक कव्वाल खाने के साथ, औरतों के लिए अलग से विश्राम गृह भी बना हुआ है। 


पीर सैय्यद जी की दरगाह में नमाज को अदा करने के लिए कव्वालियां गायी जाती है। मुसलिम धर्म में कव्वालियों का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है। जब लोग पूरे उत्साह के साथ कव्वाली को गाते है, तो ऐसा लगता है कि रूह उस खुदा से जुड़ गई हो। यहाँ जाने वाले लोग कव्वाली को जरूर सुनते है। 



यह भी पढ़े :- सितारों की नगरी मुंबई में घूमने के लिए पर्यटक स्थल


समय (Time)


किसी भी धर्म या मुसलिम लोगों के लिए प्रवेश का समय सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक है। यहाँ प्रवेश करने के लिए किसी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जाता है। ध्यान रखे कि आपके कपड़े पूरे शरीर पर होने चाहिए। 



कैसे जाए (How Reach)


हाजी अली दरगाह (Haji Ali Dargah) में जाने के लिए सब से पहले मुंबई आना होगा। मुंबई आने के लिए हवाई जहाज, रेल या सड़क के माध्यम से भी आ सकते है। 



कब जाए (When Go)


मुंबई जाने का सही समय अक्तूबर से फ़रवरी के बीच का समय होता है। इस समय ना ज्यादा सर्दी और गर्मी होती है। बारिश के मौसम में बॉम्बे घूमने की ना सोचे। इस समय बॉम्बे में बहुत ज्यादा पानी भर जाता है। जिसकी वजह से कहीं आना जाना बहुत ही मुश्किल हो जाता है। बॉम्बे (Bombay) महाराष्ट्र (Maharashtra)की सारी जानकारी के लिए गाइड बुक हमेशा अपने साथ रखे।

ओहिओ उत्तर अमेरिका की रोमांचक गतिविधियों के बारे में जानकारी



उत्तरी अमेरिका (North America) का ओहिओ (Ohio) राज्य रोमांचक गतिविधियों के लिए जाना जाता है। ओहियो राज्य में पहाड़ पर चढ़ना, गुफाओं में जाना, स्कीईंग, ज़िपलीलिंग, कयाकिंग और किश्ती की सवारी सैलानियों की मुख्य गतिविधियां है। गर्मियों के दिनों में यात्रा करना ज्यादा मजेदार होता है। आइए आज हम बात करते है, ओहिओ उत्तर अमेरिका की रोमांचक (Adventure) गतिविधियों (Activities) के बारे में। 



घुड़सवारी (Horse Riding)


घुड़सवारी करते हुए जंगल के नज़ारों का मजा लेने के लिए ओहिओ बहुत अच्छा स्थान है। प्रकृति के खूबसूरत दृश्य देख कर सैलानी आनंद से भर जाते है। घोड़े घुड़सवारी के लिए भाड़े पर आसानी से मिल जाते है। हॉकिंग हिल्स की चट्टानें घुड़सवारी के बढ़िया जगह है। 



हाईकिंग (Hiking)


जिन सैलानियों को हाइकिंग का मजा लेना हो, वह ओहिओ में जरूर आये। ओहियो स्टेट पार्क, हॉकिंग हिल्स स्टेट पार्क, कुयाहोगा घाटी राष्ट्रीय उद्यान, जॉन ब्रायन स्टेट पार्क, वेन राष्ट्रीय वन हाइकिंग और लम्बी पैदल यात्रा के लिए जाने जाते है। इन पार्कों में घूमने के मानचित्र को अपने पास जरूर रखना चाहिए। यह जंगल बहुत ज्यादा घने है। जिसके कारण रास्ता भूल जाने का बहुत ज्यादा अंदेशा रहता है।


                                    

यह भी पढ़े :- बरमूडा उत्तरी अमेरिका के देश के बारे में जानिए


एटीवी ऑफ़ रोडिंग (Atv of Roding)


एटीवी ऑफ़ रोडिंग ओहिओ के लुढ़कने वाले स्थान पर एक रोमांच (Adventure) से भरी सवारी है। एटीवी की सवारी के लिए सैलानियों को कुछ शुल्क देना होता है। जिसमें वह 75 मील की सवारी की अनुमति देते है। इसकी सवारी करते हुए मिट्टी से बहुत ज्यादा कपड़े ख़राब होते है। हरी भरी पहाड़ियों से गुजरते हुए, भालुओं को देखने का अवसर प्राप्त होता है।




ज़ीप्लिनिंग (Zippling)


दक्षिण ओहिओ उत्तरी अमेरिका (North America) को घूमने के लिए ज़ीप्लिनिंग बहुत बढ़िया साधन है। ज़ीप्लिनिंग के माध्यम से 50 किलोमीटर की गति से ऊंचे ऊंचे पेड़ों के बीच में से गुजरने का अनुभव बहुत मजेदार होता है। पतझड़ के मौसम में ज़िप्लिनिंग करना अच्छा होता है। ज़िपलाइन सवारी के दौरान कई तरह के जानवरों को देखने का अवसर भी प्राप्त होता है। 



बाइकिंग (Biking)


बाइकिंग करने वाले सैलानियों को आसानी से बाइक भाड़े पर मिल जाती है। यह एक रोमांच से भरी सवारी है। आलम क्रीक, सीज़र क्रीक, ह्यूस्टन वुड्स, और साइकोटो ट्रेल बाइकिंग के लिए बहुत बढ़िया स्थान है। बाइक की सवारी करते हुए, पर्यटक कई गांव और शहरों के बीच में से हो कर गुजरते है। 



यह भी पढ़े :-सैन लुइस ओबिस्पो उत्तरी अमेरिका कैलिफ़ोर्निया के पर्यटक स्थल के बारे में जानिए 


नाव की सवारी (Boating)


कैनोई ओहिओ प्रान्त का बहुत ही सुन्दर स्थान है। यहाँ पर जाने के लिए सैलानियों को छोटी खुली नाव की सवारी करनी पड़ती है। कुछ यात्रा कंपनी कई तरह का टूर पैकेज देती है। इसमें दिन या रात का समय पर्यटक खुद चुन सकते है। चाँदनी रातों में खुली नाव की सवारी पर्यटकों को बहुत ही सुखद अनुभव देती है। 



गुफाओं की सैर (Caving)


ओहिओ प्रान्त में बहुत ज्यादा गुफाओं को देखने का अवसर प्राप्त होता है। इन गुफाओं को पैदल चलकर देखा जा सकता है। वेस्ट लिबर्टी गुफाएं जमीन के नीचे बहने वाली नदी के कारण बनी है। चुना पत्थर की हजारों साल की पहली गुफाएं है। यहाँ 20000 साल पुराना क्रिस्टल का बना पुल है। यह रोमांच से भरी एक सुखद यात्रा है। इस गुफा की खास बात है कि अभी भी "ओले मिस्ट्री नदी" यहाँ से बहती है। 



पहाड़ी चढ़ाई (Climbing)


कुछ सैलानी पहाड़ पर चढ़ने के बहुत ज्यादा शौकीन होते है। यह बहुत ही जोखिम से भरा और रोमांचक गतिविधियों (Activities) में से एक है। ओहिओ में चुना पत्थर की खड़ी चट्टानों पर चढ़ने का अपना ही मजा है। जॉन ब्रायन स्टेट पार्क और येलो स्प्रिंग्स पार्क की चट्टानें सैलानियों की पहली पसंद है। पहाड़ी चढ़ाई को सीखने वाले लोगों के लिए सही जगह है। यहाँ पर पर्यटक को रैपलिंग (Rappelling ) की सुविधा प्रदान की जाती है।



मछली पकड़ना (Fishing)


छोटी छोटी नाव में बैठकर लोग मछली को पकड़ने का ओहिओ (Ohio) में आनंद लेते है। इस राज्य में कई नदियां बहती है। इन नदियों में बहुत बड़ी संख्या में मछलियां पायी जाती है। माउमी खाड़ी, पोर्ट क्लिंटन और जिनेवा-ऑन-द झील मछली पकड़ने के लिए बहुत बढ़िया स्थान है। सर्दियों के मौसम में ज्यादा बर्फ पड़ने के कारण मछलियों को पकड़ने के लिए बहुत बड़ा क्षेत्र मिल जाता है। 



स्कीईंग (Skiing) 


सर्दियों के मौसम में स्कीइंग करने का अलग ही मजा है। यहाँ पर कई कंपनियां स्किंग की सेवा प्रदान करती है। जिन्हें कुछ शुल्क देकर इस रोमांचक खेल का मजा लिया जा सकता है। दिव्यांग लोगों के लिए भी विशेष रूप से स्कीईंग की सुविधा प्रदान की जाती है। लोग दिन या रात किसी भी समय का पैकेज ले सकते है। स्की का अनुभव बहुत ही अद्भुत है। 



कयाकिंग (Kayaking)


कयाकिंग बहुत ही रोमांचकारी पानी का खेल है। इसमें अपना कयाक किराए पर लेना पड़ता है। कयाक को किराए पर ले कर सैलानी मॉर्गन के कैनो लिवर के पुराने किले को भी देख सकते है। कयाकिंग के लिए लिए इस प्रान्त के 12 से भी ज्यादा नदियां है। 

कैसे करें हवाई जहाज में पहली बार यात्रा


सभी का सपना होता है कि वह अपने जीवन में एक बार हवाई जहाज़ का सफर अवश्य करें। पहली बार हवाई सफर करना बड़ा ही रोमांचक और तनाव से भरा होता है। इस यात्रा में आप हजारों फुट धरती से ऊपर होते है। ख़ुदा ना करें कि कुछ खराबी हो, तो जान पर बन आती है पर डरने की जरूरत नहीं क्योंकि ऐसा बहुत ही कम होता है। आप अगर पहली बार (First time) हवाई (Airplane) सफर (Journey) करने जा रहे है तो आप के लिए हमारा लेख बहुत ही काम आएगा। इसको पूरा और ध्यान से पढ़े ताकि आप को यात्रा के दौरान किसी प्रकार की कोई समस्या ना आए।


अंतर्देशीय हवाई यात्रा  (Domestic Journey)


अंतर्देशीय रेलू यात्रा करने के समय आप के पास हवाई टिकट के साथ, पहचान पत्र का अवश्य हो। जैसे की पासपोर्ट, पैन कार्ड, वोटर कार्ड, आधार कार्ड, बच्चा अगर 18 से कम है तो उसका जन्म प्रमाण पत्र, सरकारी विभाग की तरफ से जारी पहचान पत्र, दो नया फोटो ज़रूर हो।


अन्तर्राष्टीय विदेशी यात्रा (International Journey) 


एक देश से दूसरे देश में जाने के समय, हम से कुछ कागज़ात माँगे जाते है। यह दस्तावेज इमीग्रेशन अधिकारी को, हमें दिखाने होते है। जैसे कि आपका पासपोर्ट, वीज़ा, वीज़ा के साथ कुछ और दूतावास की तरफ से इमीग्रेशन को देने के लिए कागज़, हवाई टिकट, होटल बुकिंग, बच्चों के जन्म प्रमाण पत्र, शादी का प्रमाण पत्र और आप के पास कम से कम दो फोटो अवश्य हो।


पैकिंग (Packing)


हम हवाई यात्रा के दौरान काफी चीज़ें आप हवाई जहाज़ (Airplane) में नहीं ले जा सकते है। जिन वस्तुओं को ले जा सकते है, उनकी भी मात्रा भी तय की गयी है। हवाई सफर में पैकिंग (packing) बैग दो प्रकार के होते है।


केबिन बैग (Cabin bag) 


विमान (Airplane) के अंदर केबिन बैग को राही सीट के पास ले जा सकते है। इसमें 7 से 15 किलो वज़न रखा जा सकता है। भार की सही जानकारी एयरलाइन्स टिकट पर होगी, उसी हिसाब से केबिन बैग का वज़न रखे। इस बैग में 100ml से ज्यादा किसी भी प्रकार का द्रव नहीं रख सकते है। इस में पैकिंग फ़ूड रख सकते हो| अगर खाना रखना है तो याद रखों कि तरी वाली सब्जी ना हो, सुखी सब्जी के साथ रोटी या चावल हो। कई बार सुरक्षा कारणों के कारण सुरक्षा अधिकारी खाने को कह सकते है आप उनके सामने खा कर दिखा दे। इस में कोई भी इलेक्ट्रॉनिक वस्तु ना रखे। केबिन बैग में से अपना सामान को निकाल कर हवाई जहाज में उपयोग कर सकते हो|


चेक इन बैग (Check In Bag) 


चेक इन बैग का भार 15 किलो से लेकर 25 या उस से भी ज्यादा हो सकता है। जिस के बारे में सारी जानकारी टिकट पर होगी। इसमें ज्यादा मात्रा में तरल वस्तु रख सकते है, पर शर्त है कि वह ज्वलनशील ना हो। यह बैग बोर्डिंग पास देते समय यात्री से ले लिया जाता है। यात्री के जाने वाले स्थान पर उसे दे दिया जाता है। 


हाथ में पकड़ने वाला बैग (Hand bag) 


केबिन बैग और चेक इन बैग के अलावा एक हैंड बैग भी बना सकते हो। जिसमें चार्जर, मोबाइल, पर्स, कागज़ात आदि सामान ही होना चाहिए। हमारी कोशिश यही होनी चाहिए कि खाली बैग का वज़न कम से कम हो, पर बैग मजबूत भी हो,  56 cm * 45 cm से ज्यादा ना हो, नहीं तो वह चेक इन बैग गिना जायेगा


हवाई जहाज में निषेध वस्तु (In Airplane Prohibition Things)


हवाई जहाज़ में पेट्रोल, डीज़ल, चाकू, नुकीली चीज़, हथिआर, बम आदि ले जाना वर्जित है। 100 ml से ज्यादा जैल, या किसी भी प्रकार का स्प्रै, मिर्च का पाउडर, खिलौने, पावर बैंक को आप हाथ में पकड़ कर नहीं ले जा सकते है। ऐसी चीज़ों को पहले अच्छी तरह से पैक करना होगा फिर उसे मात्रा के हिसाब से केबिन या चेक इन बैग में डालना होगा पर पावर बैंक को हैंड बैग में डालना होगा।


बच्चे विमान में (Children In Airplane)


कोई भी माँ बाप बच्चों को मुश्किल में नहीं देख सकता है। हवाई सफर के वक्त कुछ ऐसा हो जाता है कि बच्चा छोटा होने के कारण रोने लगता है। कुछ हम आप को सुझाव देने जा रहे है, जिस से आप को मुश्किल नहीं होगी अपने बच्चों के साथ हवाई जहाज़ में। जब भी बच्चों के सामान की पैकिंग करते समय, उनके लिए मौसम के हिसाब से कपड़े थोड़े ज्यादा ही रखे। विमान के अंदर बाहर के मुकाबले अधिक ठंड होती है, इसलिए अपने साथ तौलिये या हल्का सा गर्म कपड़ा ज़रूर रखे। 


विमान के उड़ने या उतरने से पहले करीब अपने बच्चे को कम से कम 2 से 3 घंटे पहले अपना दूध या कुछ खाने को दे उसके बाद नहीं। फिर जब जहाज़ उड़ने लगे तो महिलाएं अपना दूध या कुछ खाने को दे। इस से आप के बच्चे का ध्यान अपनी भूख मिटाने की तरफ हो जायेगा। जिस से बाद विमान के उड़ने या उतरने के समय बच्चे को कोई भी तकलीफ़ नहीं होगी। बच्चे की उम्र के हिसाब से आप के पास खिलौना हो. जिस से उसका ध्यान खिलौने की तरफ हो जायेगा। 


कुछ बड़ों और बच्चों में देखा गया है कि बार बार जहाज़ के उड़ने और उतरने के समय कानों में दर्द होता है। ऐसे वक्त जैसे भी भी हो सके उसके साथ बातें करें। बच्चे का इधर उधर ध्यान लगाए। अकसर देखने में आया है कि बच्चे विमान में रोने लगते है, या उनकी तबीयत ख़राब हो जाती है। ऐसी स्थिति में  घबराना बिल्कुल भी नहीं है। विमान में एक नर्स होती है, जिसे बुलाकर बच्चे को दिखा सकते है।




कब एयरपोर्ट जाए? (When Go)


यात्री फ्लाइट से करीब ढाई से तीन घंटे पहले एयरपोर्ट पर जाए। अकसर देखने में आया है कि इमीग्रेशन विभाग के पास यात्रियों की काफी भीड़ होती है। जिस वजह से काफी समय लग जाता है। दूसरा इस बात का ध्यान रखे कि अगर फ्लाइट घरेलू है, तो घरेलू दरवाज़े से प्रवेश करें। अगर विदेश जा रहे है, तो अंतर्राष्ट्रीय प्रस्थान प्रवेश द्वार से एयरपोर्ट के अंदर जाए। एयरपोर्ट के अंदर जाते समय यात्री को पहचान पत्र और वीज़ा दिखाने को कहा जायेगा।


बोर्डिंग पास (Boarding Pass) 


एयरपोर्ट में प्रवेश करने के बाद जिस एयरलाइन्स का टिकट है, उस के काउंटर पर जा कर अपने सामान का भार तुलवाना होगा। एयरलाइन्स के हिसाब से अगर आप के बैग का वज़न ज्यादा है, तो  वहीं यात्री को निकालना होगा। यात्री चाहे अतरिक्त भार का शुल्क अदा कर के सामान अपने साथ ले जा सकता है। एयरलाइन्स टिकट काउंटर पर ही पासपोर्ट और वीज़ा देख कर एक कार्ड दिया जाता है। इसी को बोर्डिंग कार्ड कहा जाता है। इसी पर राही का सीट का नंबर होगा। राही खिड़की वाली सीट की भी मांग कर सकते है। यह मुफ्त होता है, पर कई बार ज्यादा यात्री होने के कारण पैसे ले कर भी सीट दी जाती है। केबिन बैग (cabin bag) राही को दे दिया जाता है, और चेक इन बैग जमा कर लिया जाता है।




इमीग्रेशन विभाग (Immigration Department) 


बोर्डिंग पास लेने के बाद राही को इमीग्रेशन विभाग के पास जाना होता है। जहाँ इमीग्रेशन अधिकारी उसके दस्तावेज़ को जांचने का कार्य करेगा| वह कुछ सवाल भी पूछेगा| यहाँ पर यात्री को डरने की जरूरत नहीं होती है| बस ध्यान से उसकी बात को सुने और आराम से सवालों का जवाब दे। अधिकारी से बात करते समय डरना नहीं है। उसकी बातों का जवाब मुस्कान के साथ दे। 


यात्रियों को चाहिए है कि हमेशा अपने शहर के पास वाला हवाई अड्डा ही चुने। टिकट सस्ती के चक्कर में या किसी और प्रयोजन से दूर वाला हवाई अड्डा चुन लेते है। ऐसा करने पर अधिकारी ज्यादा पूछताछ करते है। कुछ लोग डर जाते है, और गलत जानकारी दे देते है। जिसकी वजह से विमान में चढ़ने नहीं दिया जाता है। 

 


जाँच सुरक्षा (Security Checking) 


जाँच सुरक्षा बहुत ही जरूरी है। यहाँ पर राही के बैग में, शरीर में कुछ वर्जित द्रव या कोई कीमती चीज़ नहीं, इसी का पता लगाया जाता है। हर एयरलाइन्स विमान की जाँच अपने बनाए गए नियमों से की जाती है। कभी भी अधिकारियों से किसी बात पर उलझे ना, यह ग़लती उम्र भर जेल में और हवाई सफर पर पाबंदी लगा सकती है।


वह जिस वस्तु को निकालने को कहे निकाल दे। यात्री को साथ ले जाने वाले खाने को खाने के लिए कह सकते है। राही को अपना खाना खा कर दिखाना होगा। किसी भी प्रकार की कीमती चीज़ अपने हैंड बैग में केबिन बैग में बिल्कुल ना रखे। यहाँ पर सामान को एक्स रे किरणों वाली मशीन के मध्य से निकाला जाता है। जिसमें बैग और शरीर में छिपी सामान की फोटो सुरक्षा कर्मचारियों को दिख जाएगी। हमेशा याद रखे घरेलू यात्रा के दौरान इमीग्रेशन विभाग से किसी प्रकार की कोई भी पूछताछ नहीं होगी



बैठने के समय (In Plain)


बोर्डिंग पास लेने के बाद, इमीग्रेशन विभाग और सुरक्षा विभाग से जब आप क्लीन चिट ले लेते है, तो विमान में बैठने की अनुमति दी जाती है। राही अपनी सीट का नंबर देखे और उस पर जा कर बैठ जाए अगर किसी भी प्रकार की कोई परेशानी आए, तो हवाई जहाज़ में एयर हॉटेस्ट से पूछ सकते है। इसके बाद कुछ हिदायत दी जाती है, उनका पालन करें।


विमान यात्रा (Journey) के उड़ने और उतरने के समय आप के कानों में दर्द या आप को उलटी आ सकती है। यात्री सीट के बिलकुल सामने एक बैग बना होता है। उस में एक लिफ़ाफ़ा होता है। यात्री उसमें उलटी (Vomiting) कर सकते है। हवाई जहाज़ में आप अपने साथ लाया गया खाना बिना शर्म किए खा सकते है, अगर विमान में कुछ ले कर खाना चाहे खा सकते है पर वह काफी महंगा पड़ेगा। हमें उम्मीद है कि इस लेख को पढ़ने के बाद, आप अपनी पहली (First time) हवाई यात्रा से बिल्कुल भी नहीं डरेंगे।


जानिए दुनिया के सब से ठंडे शहरों और स्थानों के बारे में


दुनिया (World) के कई देशों में बहुत ज्यादा बर्फ़बारी देखने को मिलती है। बर्फ़बारी के दौरान ताप मान शून्य डिग्री से बहुत ज्यादा नीचे चला जाता है। कुछ देशों के शहर (City) साल साल बर्फ से ही ढके रहते है। आइए आज हम संसार के सब से ज्यादा ठंडे (Coldest) स्थानों (Places)के बारे बात करते है। 



ओटावा (Otawa)


ओटावा कनाडा (Canada) का बहुत ज्यादा ठंडा शहर है। इसका तापमान शून्य डिग्री से -14 डिग्री तक तापमान चला जाता है। इतना ज्यादा ठंडा होने के बावजूद भी सैलानियों को बहुत भाता है। पर्यटकों की इस शहर की वास्तुकला और संग्रहालय बहुत लुभाते है। कई ऐतिहासिक इमारतें भी देखने के लायक है। 



वेरखोयांस्क (Verkhoyansk) 


वेरखोयांस्क पूर्वी साइबेरिया (East Siberia) और रूस (Russia) देश का बहुत सुन्दर शहर (City) है। यहाँ पर -71 तक तापमान दर्ज किया जाता है। सर्दियों में जीवन गुजरना बहुत ज्यादा कठिन होता है। इस शहर की आबादी सिर्फ 1400 लोगों की है। वेरखोयांस्क में भेड़िये बहुत बड़ी संख्या में पाए जाते है। हर समय इनके हमले का खतरा बना रहता है। 


बैरो (Barrow)


बैरो (Barrow) शहर अलास्का (Alaska) में स्थित है। यहाँ पर बहुत बड़ी संख्या में लोग रहते है। सर्दियों के दिनों में -24 डिग्री तक इसका तापमान चला जाता है। सैलानी इस देश की विरासत को देखने के लिए दूर दूर से आते है। बैरो शहर की आबादी 4000 से 4500 के मध्य में है। 



नोरिलस्क  (Norilsk) 


नोरिलस्क शहर रूस (Russia) देश में स्थित है। आम दिनों में इस शहर का तापमान -10 डिग्री रहता है। सर्दियों के दिनों में -50 से भी नीचे चला जाता है। पर्यटकों के लिए नोरिलिस्क शहर बहुत ही अच्छा स्थान है। ऐतिहासिक किले, संग्रहालय और स्मारक सैलानियों का बेसब्री से इंतज़ार करते हुए दिखाई देते है। 



यह भी पढ़े :- दुनिया के मशहूर और खूबसूरत नग्न (Nude) समुद्री तटों के बारे में जानकारी


वोस्टोक (Vostok)


वोस्टोक अंटार्टिका (Antarctica) शहर को दुनिया (World) के सब से ठंडे (Coldest) स्थानों (Places) में सब से ऊपर गिना जाता है। इसका तापमान -82 डिग्री तक दर्ज किया जा चुका है। इस शहर में सारे संसार की 90% बर्फ यहीं पर है। वोस्टोक शहर में रूसी अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र है। बर्फीली हवा का चलना बहुत ही आम बात है। 



येल्लोनाइफ़ (Yellowknife)


येल्लोनाइफ़ नगर कनाडा (Canada) में स्थित है। इस नगर का सब से कम तापमान -51 डिग्री रोर्ड किया गया है। यहाँ पर सारा साल बर्फ देखने को मिलती है। सैलानियों के लिए हाइकिंग और बर्फ के कई खेल हर समय मौजूद है। गर्मी के दिनों में नॉर्थन लाइट्स इसके मुख्य आकर्षणों में से एक है।



ग्रीनलैंड (Greenland) 


ग्रीनलैंड देश की आबादी काफी ज्यादा है। यहाँ पर -66 डिग्री निचले स्तर का तापमान दर्ज किया गया है। इस देश को ब्रिटिश अनुसंधान केंद्र के रूप में जाना जाता है। ग्रीनलैंड में सारा साल ही बहुत ज्यादा ठंड देखने को मिलती है। 



उलानबातर (Ulaanbaatar)


उलानबातर  मंगोलिया (Mangolia) एक बहुत ही सुन्दर नगर है। इस नगर का तापमान -42 डिग्री दर्ज किया जाता है। इतना ज्यादा ठंडा होने के बावजूद भी लोगों की बहुत बड़ी संख्या उलानबातर में रहती है। इस नगर में आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम पर्यटकों का खास आकर्षण होते है।  



युकोन (Yukon) 


युकोन कनाडा (Canada) में स्थित है। माउंटेन ट्रैकिंग शौकीन लोगों के बहुत अच्छी जगह है। इसके सुंदर दृश्यों को गर्मियों के दिनों में रेल के द्वारा देखा जा सकता है। सर्दियों में इसका तापमान -29 डिग्री तक चला जाता है। 



यह भी पढ़े :- दुनिया के कमजोर पासपोर्ट के बारे में जानकारी 


फ्रेज़र (Fraser)


फ्रेज़र कोलोराडो (Colorodo) का प्रमुख शहर है। स्कीइंग करने वाले लोगों के लिए बहुत ही खास स्थान है। सैलानियों के लिए कई प्रकार की गतिविधियां करने के लिए है। सर्दी के दिनों में इसका तापमान -31 डिग्री तक पहुंच जाता है। इसकी फ़्रेज़र नाम नदी दुनिया भर में अपनी खूबसूरती के लिए प्रसिद्ध है। 



मिनीसोता (Minnesota)


मिनीसोता उत्तरी अमेरिका (North America) में स्थित है। यहाँ का तापमान -20 डिग्री के आसपास रहता है। ट्रैकिंग के दीवाने लोगों के लिए सही स्थान है। सर्दियों में लोग मछलियों को पकड़ने का मजा उठाते है। 



हार्बिन (Harbin) 


हार्बिन चीन (China) देश का नगर है। इसका तापमान -46 तक पहुंच जाता है। इतनी ठंड के बावजूद बहुत बड़ी संख्या में लोग इस शहर में रहते है। यूरोप और रूस को चीन में देखना हो तो, हार्बिन सही स्थान है। साल भर कई तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रम सैलानियों के लिए आयोजित किये जाते है।  



याकुत्स्क (Yakutsk)


याकुत्स्क रूस (Russia) का सुन्दर और बर्फीला शहर है। यहाँ पर सारा साल बर्फ पड़ती है। इसका तापमान -40 डिग्री तक चला जाता है। याकुत्स्क को हीरे के काम के लिए जाना जाता है। सैलानियों के लिए कई संग्रहालय और नाटक के मंच बेसब्री से इंतज़ार करते है। 

दुनिया के कमजोर पासपोर्ट के बारे में जानकारी




दुनिया (World) के 195 देशों को यूनाइटेड नेशन ऑफ़ ऑर्गनाइजेशन ने मान्यता दी हुई है। इन देशों में कुछ ऐसे देश भी है, जिनके पासपोर्ट को सब से ज्यादा बेकार माना जाता है। जिसका मतलब है कि दूसरे देश इन देशों के पासपोर्ट धारकों बहुत कम संख्या में वीजा देते है। इन देशों में बहुत ज्यादा आतंकवाद, तानाशाही सरकार या सरकार का बार बार गिरना दूसरे देशों में अच्छा नहीं सोचा जाता है। ऐसे देशों के लोगों को अपने देश में आने पर या इन देशों में जाने पर अप्रिय घटना के लिए जिम्मेदार माना जाता है। आइये आज हम बात करते है, दुनिया के सब से ज्यादा कमजोर (Weak) पासपोर्ट (Passport) के बारे में।  


दुनिया के कमजोर पासपोर्ट (Weak Passport In The World) 



अफगानिस्तान (Afghanistan) 


अफ़ग़ानिस्तान देश एक मुसलिम देश है। इस देश में बहुत लम्बे समय से आतंकवाद का बोल बाला है। इसकी बरबादी का समय 70 के दशक से शुरू हुआ था। सब से पहले तालिबान, फिर रूस ने किया। इन दोनों देशों के बाद रही कसर अमेरिका ने पूरी कर दी। यहाँ पर लड़ाई का माहौल बना रहता है। अफगानिस्तान के पासपोर्ट पर सिर्फ 5 देशों में सैलानी बिना वीजा के घूम सकते है। 



इरित्रिया (Eritrea)


इरित्रिया एक बहुत ही सुन्दर अफ्रीका का देश है। इस देश की तानाशाही सरकार ने लोगों का जीवन नर्क बना दिया है। पूरा देश गरीबी की मार झेल रहा है। गुंडागर्दी, कत्ल इस देश में आम बात है। जिस के कारण इस देश में सैलानी जाना पसंद नहीं करते है। यहाँ को लोगों को दूसरे देशों के दूतावास वीजा देना पसंद नहीं करते है। इरित्रिया के लोग अपने देश को छोड़ कर यूरोप के देशों में जा कर शरणार्थी जीवन जीने के लिए मजबूर है। 


यह भी पढ़े :- विदेश (foreign countries) में भूल कर भी ना करें ऐसी गलती (Mistake) हो सकता है आप को सज़ा (Punishment) या जुर्माना (Penalty)



इराक (Iraq) 


किसी समय सद्दाम हुसैन की तानाशाही ने इराक के लोगों का बहुत ज्यादा नुकसान किया। उसके बार अमेरिकी हमलों ने हालात बहुत ज्यादा ख़राब कर दिए। इस देश के पासपोर्ट को बेकार पासपोर्ट कहा जाता है। इराक के पासपोर्ट पर सिर्फ 6 देशों में बिना वीजा घुमा जा सकता है। 



म्यांमार (Myanmar) 


म्यांमार छोटा पर बहुत ही मनमोहक देश है। यह एक गरीब देश है। इस देश के लोग बहुत कम विदेशी दौरों के लिए जाते है। जिसकी वजह से इस देश के पासपोर्ट को कमजोर (Weak) पासपोर्ट के रूप में देखा जाता है।  



ईरान (Iran)


ईरान देश में सरकार के द्वारा किये गए कार्यों के कारण लोगों की हालत बहुत ज्यादा ख़राब हो गयी। जिस के कारण देश में गुंडागर्दी, कत्ल जैसे मामले बहुत ज्यादा देखने को मिलते है। ईरान धार्मिक कट्टरता बहुत ज्यादा देखने को मिलती है। ईरानी पासपोर्ट धारक को जल्दी किसी देश का वीजा मिलना बहुत ही मुश्किल होता है। 


फिलिस्तीन (Philistine)


फिलिस्तीन देश में हर समय युद्ध जैसे हालात बने रहते है। ऐसे हालातों के कारण लोग बहुत ज्यादा गरीब और हर समय डर के माहौल में रहते है। फिलिस्तीनी पासपोर्ट (Passport) को बहुत कम महत्वपूर्ण माना जाता है। 



पाकिस्तान (Pakistan)


पाकिस्तान देश में अकसर आतंकवादी घटनाएं देखने को मिलती है। जिसकी वजह से लोग इस देश में घूमना पसंद नहीं करते है। इसी वजह से पाकिस्तानी पासपोर्ट धारक लोगों को जल्दी दूसरे देश वीजा नहीं देते है। पाकिस्तान के पासपोर्ट पर सिर्फ 9 देशों में वीजा फ्री यात्रा की जा सकती है। 



यह भी पढ़े :- सैक्स की सब से बड़ी मंडी इन देशों में लगती है


सोमालिया (Somalia) 


सोमालिया देश को समुद्री लुटेरों के रूप में जाना जाता है। इस देश के लोग सामान वाले जहाज़ को समुद्र को लूटने का कार्य करते है। जिसकी वजह से दुनिया (World) के देशों के सामने छवि बहुत ज्यादा ख़राब हो चुकी है। सोमालिया पासपोर्ट को बहुत कमजोर समझा जा सकता है। सोमालिया देश की नागरिकता लेने के बारे में कोई भी सपने में भी नहीं सोचता है।



यमन (Yemen)


यमन देश एक समय बहुत अच्छी आर्थिक स्थिति में था। जब से सऊदी अरब के साथ इसका युद्ध शुरू हुआ, उसके बाद इसके हालात बहुत ज्यादा ख़राब हो गए। युद्ध के हालात हर समय बने रहते है। जिसकी वजह से जल्दी कोई भी इस देश में जाना पसंद नहीं करता है। 



सीरिया (Syria)


सीरिया में गृह युद्ध ख़त्म होने का नाम नहीं ले रहा है। जिसकी वजह से देश को बहुत ज्यादा गरीबी का सामना करना पड़ रहा है। सीरिया पासपोर्ट को बहुत ज्यादा अहमियत नहीं दी जाती है। 

थाईलैंड के प्रसिद्ध समुद्री तटों के बारे में जानकारी विस्तार से।

 भारतीय लोग खासकर युवा थाईलैंड (Thailand) घूमना सब से ज्यादा पसंद करते है। थाईलैंड की प्राकृतिक सुंदरता का हर कोई दीवाना है। यहाँ के समुद्री तटों का पानी पारदर्शी होता है। जिसके कारण प्राकृतिक दृश्यों की सुंदरता बहुत ज्यादा निखर कर सामने आती है। इस देश में कई समुद्री तट है, जहाँ पर दुनिया के कोने कोने सैलानी घूमने के लिए आते है। इन समुंदरी किनारों पर कई प्रकार के पानी के खेल खेले जाते है। यहाँ पर पर्यटकों को बहुत ज्यादा शांति मिलती है। आइये आज हम बात करते है, थाईलैंड के सब से प्रसिद्ध (Famous) समुद्री तटों (Beaches) के बारे में जानकारी (Information) विस्तार से। 



साईरी तट (Sairee Beach, Koh Tao)


साईरी तट कोह ताओ द्वीप पर स्थित बहुत ही मनमोहक तट है। स्क्रोलिंग और डाइविंग जैसे पानी के खेलों के लिए सब से ज्यादा प्रसिद्ध है। सूर्योदय और सूर्यास्त को खूबसूरत दृश्य पेश करता है। इस तट पर बहुत से होटल और रेस्त्रां है। इनमें मिलने वाला समुद्री भोजन बहुत ज्यादा स्वादिष्ट होता है। सैलानियों के घूमने के लिए फ़रवरी से सितम्बर तक का समय बहुत अच्छा है। 



रैली तट (Railay Beach)


रैली तट पर जाने के लिए बड़ी किश्ती में बैठना पड़ता है। इस तट पर चुना पत्थर की चट्टानें, गुफाएँ, घना जंगल और लैगून देखने को मिलते है। इसकी सफ़ेद रेत दिल को मोह लेती है। सैलानी इस समुद्री किनारे पर आकर खुद को प्रकृति से जुड़ा हुआ महसूस करते है। पर्यटकों को उनके बजट के अनुसार सुविधाएं आसानी के साथ मिल जाती है। स्पा की सुविधा भी लोगों को दी जाती है।



एओ प्राओ ​​तट (Ao Prao Beach)


ए ओ प्राओ तट के समेट द्वीप पर स्थित है। यह एक शांत समुद्री किनारा है। छुट्टी का एक दिन बिताने के लिए बहुत ही बढ़िया स्थान है। समुद्री भोजन, तैराकी का आनंद सभी को भाता है। सैलानियों के लिए अक्तूबर से फ़रवरी का समय घूमने के लिए बहुत ही बढ़िया है। पर्यटकों इस तट पर आकर बहुत ही शांति मिलती है। 



यह भी पढ़े :- थाईलैंड के ऑन एराइवल वीज़ा की सारी जानकारी


नाई हरन तट (Nai Harn Beach)


नाई हरन तट फुकेट में स्थित है। सैलानियों को बहुत बड़ी संख्या इस तट पर देखने को मिलती है। पारदर्शी पानी, सफ़ेद रेत और ऊंची लहरें हर पर्यटक को खूब लुभाती है। ऊंची लहरों के कारण तैराकी  करना बहुत ज्यादा खतरनाक हो सकता है। इसकी जलवायु शरीर को ताजगी से भरने के साथ, मन को बहुत शांत कर देती है। पूरे वर्ष इसका मौसम घूमने के लिए बहुत ही बढ़िया है।  



बोतल तट (Bottle Beach)


बोतल तट कोह फांगन द्वीप पर स्थित है। इस तट पर बहुत ज्यादा भीड़ जून जुलाई में ही देखने को मिलती है। इसका वातावरण बहुत ही शांत है। यह तैराकी के लिए बहुत बढ़िया जगह है। पर्यटक किश्ती को भाड़े पर ले कर समुंदर की दूर तक सैर कर सकते है। प्राकृतिक सुंदरता से भरे इस तट से जाने का किसी का मन नहीं करता है। 



हाड रिन तट (Haad Rin Beach)


हाड रिन तट कोह फांगन द्वीप पर स्थित है। सैलानियों के लिए कयाकिंग, तैराकी, वॉलीबाल और स्कीइंग का आनंद आराम के साथ ले सकते है। हाड रिन तट पर नारियल के पेड़, चट्टानें, समुद्र का नीला पानी, सफ़ेद रेत हर पर्यटकों को भाती है। पर्यटक चाहे तो, महंगी से महँगी सुविधा का मजा ले सकते है। लोगों की अच्छी खासी भीड़ देखने को मिलती है। यह थाईलैंड में सब ज्यादा सुंदर तटों (Beaches) में से एक है।



फ्रा नांग गुफा तट (Phra Nang Cave Beach)


फ्रा नांग गुफा तट क्राबी शहर में स्थित है। इसका उथला पानी सैलानियों को खूब लुभाता है। तट के एक  किनारे पर लहरों को रोकने के लिए चट्टानें है। इन चट्टानों से समुद्र का दृश्य बहुत ही सुन्दर दिखाई देता है। यहाँ पर कई गुफाएँ है, जिन्हें देखने के लिए छोटे छोटे रास्तों से हो कर जाना पड़ता है। मई से अक्तूबर तक बहुत कम भीड़ देखने को मिलती है। नवंबर से अप्रैल के महीनों में बहुत बड़ी संख्या सैलानियों की देखी जा सकती है। 



फ्रीडम तट फ्रीडम (Freedom Beach) 


फ्रीडम तट फुकेत में स्थित है। पटोंग से नाव ले कर तट पर पहुंचा जा सकता है। नाव से आने के लिए कुछ पैसे देने होते है। फ्रीडम समुद्री किनारे के प्राकृतिक दृश्य हर किसी को लुभाते है। एक दिन शांति से बिताने के लिए या स्कोर्लिंग के लिए बहुत अच्छी जगह है। सैलानियों के लिए दिसंबर से फरवरी का समय बहुत ही अच्छा है। 



यह भी पढ़े :- बैंकाक के पर्यटन स्थल के बारे में जानकारी 


पट्टाया तट (Pattaya Beach) 


बैंकाक थाईलैंड (Thailand) के दक्षिण में पट्टाया तट सैलानियों को आकर्षित करता नज़र आता है। यह समुद्री किनारा पर्यटकों में बहुत ज्यादा प्रसिद्ध (Famous) है। पैरासेलिंग, जेट स्की, स्पा के साथ समुद्र के किनारे सैर का आनंद लिया जा सकता है। यहाँ पर अच्छे से अच्छा होटल, रिसोर्ट मेहमानों का ख्याल रखने के उपलब्ध है। मार्च से मई के महीनों में बहुत ज्यादा सैलानियों की भीड़ देखने को मिलती है। 



माया खाड़ी (Maya Bay Koh Phi Phi)


माया खाड़ी कोह फाई फाई द्वीप पर स्थित है। यह चुना पत्थर की विशाल पहाड़ी से तीन तरफ से घिरी हुई है। उष्णकटिबंधीय मछलियों की बहुत बड़ी संख्या देखने को मिलती है। नवंबर से अप्रैल तक घूमने के लिए बहुत अच्छा समय है। इन महीनों के दौरान समुंदर का पानी बहुत शांत होता है। मई से अक्तूबर के के महीने तक पानी में काफी उछाल होता है। जिस कारण सैलानी पानी के खेलों को खेलने से डरते है। स्कॉरलिंग के लिए बहुत अच्छा स्थान है।  



चावेन्ग नोई तट (Chaweng Noi Beach)


चावेन्ग नोई तट कोह सामुई द्वीप पर स्थित है। यह एक छोटा सागरीय किनारा है। सैलानियों की बहुत बड़ी संख्या हर समय देखने को मिलती है। सर्फिंग के दीवाने लोगों के लिए बहुत ही अच्छा स्थान है। स्पा की सुविधा भी पर्यटकों को दी जाती है। समुद्री भोजन का स्वाद कई दिनों तक लोगों के मुंह से नहीं जाता है। दिसम्बर से अप्रैल तक सैलानियों के घूमने के लिए बहुत ही आनंदमय स्थान है। थाईलैंड गाइड अधिक जानकारी (Information) के हमेशा अपने पास रखे।